# पाक PM के आरोप पर भारत का पलटवार-टेररिस्तान है पाकिस्तान         # मोदी का वाराणसी दौरा आज, 305 करोड़ से बने ट्रेड सेंटर का करेंगे इनॉगरेशन         # समुद्र में बढ़ेगा भारत का दबदबा, पहली स्कॉर्पिन पनडुब्बी तैयार         # रोहिंग्या विवाद के बीच म्यांमार को सैन्य साजो-सामान दे सकता है भारत         # चीन में सोशल मीडिया पर इस्लाम विरोधी शब्दों के प्रयोग पर लगी रोक         # परवेज मुशर्रफ का दावा-बेनजीर की हत्या के लिए उनके पति जरदारी जिम्मेदार          # भारत ने अफगानिस्तान में 116 सामुदायिक विकास परियोजनाओं की ली जिम्मेदारी         # जम्मू-कश्मीर में दो आतंकी गिरफ्तार, सशस्त्र सीमाबल पर किया था हमला        
News Description
मानसून को ध्यान में रख घग्गर के तटबंधों को मजबूत बनाए रखें अधिकारी: एसडीएम

मानसूनके आगमन को ध्यान में रखते हुए एसडीएम विजेंद्र सिंह ने जिले में से गुजरने वाली घग्गर नदी के संभावित बाढ़ के खतरों से निपटने के लिए किए जा रहे प्रबंधों का जायजा लिया। उन्होंने बाढ़ नियंत्रण कार्यों का निरीक्षण करते हुए गांव मल्लेवाला से झोरड़नाली तक बने घग्गर बांध का दौरा किया और कमजोर प्वाइंट्स का जायजा लिया। 

निरीक्षण के दौरान गांवों में बने बांध का निरीक्षण करते हुए एसडीएम ने सिंचाई विभाग के संबंधित अधिकारियों से कहा कि मानसून आने वाला है। मानसून के दौरान बरसातें भी इस बार अच्छी होने की संभावना है। जाहिर है जिले में से गुजरने वाली घग्गर नदी में बरसाती पानी का उफान सकता है। इसलिए घग्गर नदी के तटबंधों को मजबूत बनाए रखने के लिए जहां भी आवश्यकता हो मिट्टी डलवाएं और बांध को मजबूत रखें। अगर कोई दिक्कत हो तो बताएं। बांधों पर बने रैंपों की मजबूती का अधिक ध्यान रखें और पूरी तरह से अलर्ट भी रहें। उन्होंने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि वे गांव सूरतिया से रोड़ी ड्रेन के साथ लगती नहरों का भी निरीक्षण करें और साथ लगती चैनलों की सफाई भी करवाएं ताकि पानी का बहाव सुचारू रूप से चलता रहे। 

इनगांवों के घग्गर बांधों का किया निरीक्षण 

बड़ागुढ़ा। एसडीएमविजेंद्र सिंह ने गांव मल्लेवाला झोरड़नाली के अलावा गांव सहारणी, बनसुधार, केलनियां सहित घग्गर नदी के किनारे से सटे करीब दो दर्जन से अधिक गांवों के पास बने घग्गर बांध का निरीक्षण किया। उनके साथ सिंचाई विभाग के एक्सईएन (घग्गर) एनके भोला, किसान सुखविंद्र सिंह, बलवंत सिंह, पूर्व चेयरमैन अवतार सिंह के अलावा अन्य अधिकारी थे।