# रक्षा मंत्रालय ने इजरायल के साथ रद्द की 500 मिलियन डॉलर की मिसाइल डील         # कालेधन पर भारत को जानकारी देंगे स्विस बैंक, पैनल की मंजूरी         # गुजरात चुनाव: कांग्रेस ने जारी की पहली लिस्ट, 77 उम्मीदवारों के नामों का ऐलान         # दीपिका पादुकोण को जिंदा जलाने पर रखा 1 करोड़ का इनाम         # कश्मीर घाटी में लश्कर के शीर्ष नेतृत्व का सफाया: सेना         # आसमान छू रहे अंडों के दाम, चिकन के बराबर पहुंची कीमतें         # महाराष्ट्र: सड़क किनारे टॉयलेट करते पकड़े गए जल संरक्षण मंत्री राम शिंदे         # चीन में नए भारतीय राजदूत के रूप में आज कार्यभार ग्रहण करेंगे बंबावले         # ICJ चुनाव में भारत को रोकने के लिए ब्रिटेन ने चली गंदी चाल        
News Description
तेल में गड़बड़ी मिली तो पेट्रोल पंप होगा सील

देशभरमें बीती 26 जून से पेट्रोल डीजल की रोजाना कीमत तय होने के फैसले से पेट्रोल पंप संचालकों द्वारा ठगी की आशंका को देखते हुए प्रशासन मुस्तैद हो गया है। खाद्य आपूर्ति विभाग के डीएफएससी प्रमोद शर्मा ने इसके लिए स्पेशल 20 सदस्यीय टीम गठित कर दी है। जो रोजाना चेकिंग अभियान चलाएंगे। खाद्य आपूर्ति विभाग की इस निगरानी से पैट्रोल पंप संचालक चाहकर भी उपभोक्ताओं के साथ ठगी नहीं कर सकेंगे। 

दूरदराज क्षेत्र के पंपों पर ठगी की आंशका 

तेलकी रोज कीमत घटने बढऩे से पंप संचालकों द्वारा अपने मीटर में दर घटाने पर उपभोक्ता को चपत लगनी तय है। उपभोक्ताओं को रोज ये पता नहीं चलेगा कि आज के रेट क्या है और पंप संचालक ने उसी रेट के अनुसार अपने मीटर में फीडिंग की है। दूरदराज के पेट्रोल पंपों पर तो ठगी की अधिक आशंका है। ऐसे में विभाग की ओर से 15 इंस्पेक्टर 5 एएफएसओ की टीम का गठन किया गया है। यह टीम जिला के पैट्रोल पंपों का समय-समय पर निरीक्षण करेगी। विभाग की औचक जांच में यदि किसी प्रकार की गड़बड़ी पाई गई तो पंप संचालक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की सक्रियता से वाहन चालकों के हकों की रक्षा हो पाएगी। 

पंप पर डिस्पले बोर्ड लगाना अनिवार्य: डीएफएससी 

^जिलाखाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक प्रमोद शर्मा ने बताया कि १५ इंस्पेक्टर तथा एएफएसओ की टीम का गठन किया गया है, जोकि समय-समय पर जिले के १९४ पंपों की जांच करेंगे। उन्होंने बताया कि पंप संचालकों को रेट के लिए डिस्पले बोर्ड लगाने की हिदायत दी गई है, जिस पर प्रतिदिन के रेट अंकित होंगे। तय रेट के अनुसार ही मशीन में फीडिंग होगी। यदि जांच में खामी पाई गई तो कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। जांच के लिए गठित की गई 20 सदस्यी टीम रोज पेट्रोल पंपों पर गड़बड़ी राेकने के लिए जांच अभियान चलाएगी। 

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग द्वारा आमजन की सुविधा के लिए विभाग का फोन नंबर 01666- 248422 सार्वजनिक किया गया है। यदि उपभोक्ता को किसी पैट्रोल पंप से किसी प्रकार की शिकायत हो तो इस नंबर पर अपनी शिकायत दर्ज करवा सकता है। रेट में गड़बड़ी करने अथवा अन्य प्रकार की शिकायत मिलने पर विभाग द्वारा पहले पंप को सील किया जाएगा और इसके बाद जांच शुरू की जाएगी।