News Description
शिक्षक को आज नई चुनौतियों का भी करना पड़ रहा सामना: बाटला

यमुनानगर| ज्ञानार्जनएक सतत प्रक्रिया है और हर स्तर पर वह आवश्यक है। शिक्षा के क्षेत्र में तो यह ओर भी जरूरी हो जाता है, क्योंकि आज के समय में शिक्षा और शिक्षण का क्षेत्र बहुत व्यापक हो गया है। 

शिक्षक को बदलते समय के साथ-साथ नई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। वह इनका सामना करने में तभी सक्षम हो सकता है जब वह अपने ज्ञान को अधुनातन रखे तथा शिक्षण की नवीन पद्धतियों से परिचित हो। यह कहना है कि मुकंद लाल पब्लिक स्कूल की प्रधानाचार्या शशि बाटला का। 

कहा कि इसी उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए मुकंद लाल पब्लिक विद्यालय में 12 दिवसीय ट्रेन ट्रेनर्स के नाम से कार्यक्रम कराया गया। शनिवार को इस कार्यक्रम का समापन हो गया। इस कार्यक्रम में 29 शिक्षकों ने भाग लिया। कार्यक्रम के दौरान विभिन्न विषयों पर प्रशिक्षण दिया। इनमें थियेटर इन एजुकेशन, इफेक्टिव टीचिंग लर्निंग रिफलेक्टिव लर्निंग, मल्टीपल इंटेलीजेंस, एडोलेससीन एंड सेक्स एजुकेशन, क्लासरुम मैनेजमेंट एंड इनक्यूलकेटिंग पॉजिटिव डिसिपलीन, स्ट्रेटेजिज टू बिल्ड स्पेलिंग्स, मैनर्स एंड एटिकुवेटस, हाई ऑर्डर थिकिंग, मल्टी टास्किंग, कम्यूनिकेशन स्किल्स, कंप्यूटर शामिल रहे।