News Description
भगवान ने चाहा तो चुनाव से पहले जेल से बाहर आ जाऊंगा: चौटाला

नारनौल:इनेलो सुप्रीमो व पूर्व मुख्यमंत्री चौ. ओमप्रकाश चौटाला ने कहा कि कार्यकर्ता उनके जेल में जाने से कतई निराश न हों। भगवान ने चाहा तो चुनाव से पहले जेल से बाहर आ जाऊंगा। 14 दिन की पैरोल पर बाहर आए इनेलो सुप्रीमो ने रविवार को नारनौल व रेवाड़ी में पार्टी कार्यालयों के साथ ही कई सामाजिक कार्यक्रमों में शिरकत की।

उन्होंने कहा कि उनकी छोटी सी गलती के कारण ही प्रदेश में भाजपा सरकार बनी है। अगर दो दिन और जेल नहीं जाते तो प्रदेश में इनेलो की सरकार बनना तय था, लेकिन हमने अदालत का सम्मान करते हुए पार्टी का प्रचार बीच में ही छोड़कर जेल जाना उचित समझा। चौटाला ने कहा कि एक षड़यंत्र के तहत कांग्रेस ने उन्हें जेल में भिजवाया है। 3206 घरों का चूल्हा जलाने की सजा उनको दी जा रही है, लेकिन सत्ता में आने के बाद पढ़े लिखे नौजवानों को वे किसी भी कीमत पर बेरोजगार नहीं रहने देंगे। पैरोल पर छूटने के बाद रेवाड़ी पहुंचे इनेलो सुप्रीमो के तेवर पहले की ही तरह कड़क थे। उन्होंने संगठन को मजबूत करने के कार्यकर्ताओं को टिप्स भी दिए। चौटाला ने इस दौरान उन लोगों पर भी निशाना साधा जो महज टिकट के लिए पार्टी में शामिल हुए और हारने के बाद पलटकर भी नहीं देखा।

उन्होंने ऐसे लोगों को काली भेड़ों की संज्ञा दे डाली तथा कार्यकर्ताओं को भी चेता दिया कि वे इस तरह के लोगों की सिफारिश लेकर उनके पास नहीं आए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने तो सोचा था कि मुझे जेल भेजने के बाद इनेलो खत्म हो जाएगी, लेकिन वफादार व समर्पित कार्यकर्ताओं की बदौलत इनेलो का जनाधार खत्म होने की बजाय बढ़ा है।

उन्होंने ठेठ हरियाणवी लहजे में कहा कि इस बार प्रदेश में इनेलो की सरकार बनाओ, थारा सात पीढ़ी का जुगाड़ कर दूंगा। अपने कार्यक्रमों के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री ने मीडिया से पूरी तरह दूरी बनाए रखी