News Description
दलाल समर्थक व विरोधियों में शुरू हुआ आरोप-प्रत्यारोप का दौर

 पलवल : कांग्रेस विधायक करण ¨सह दलाल व उनके परिजनों तथा समर्थकों के निवास व प्रतिष्ठानों पर छापेमारी के बाद दलाल समर्थकों व विरोधियों में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। सोमवार को प्रेस को जारी बयान में दलाल समर्थक दलित नेताओं महेंद्र रावत, राम अवतार कारना, अमित कुमार व कर्मचंद उर्फ कर्मा ने कहा कि विधायक दलाल के खिलाफ देने वाले स्थानीय भाजपा नेताओं को अपने गिरेबान में झांक कर देखना चाहिए।

उन्होंने कहा कि भाजपा के स्थानीय नेताओं को दलाल पर आरोप लगाने से पहले अपने वरिष्ठ नेताओं के का लेखा-जोखा देखना तथा जनता को बताना चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में शरीफ लोगों पर झूठे मुकदमे बनवाए जा रहे हैं जबकि दलाल के कार्याकाल के दौरान गुंडे-बदमाशों के खिलाफ कार्रवाई होती थी। उक्त नेताओं ने कहा कि भाजपा सरकार द्वारा विधायक दलाल के यहां छापा डलवाना ओछी हरकत है। लेकिन छापों में दलाल व उनके परिवार के यहां कुछ न मिलना भाजपा सरकार करारा तमाचा है।

वहीं भाजपा नेता वीरपाल दीक्षित ने कहा कि कांग्रेसी विधायक करण ¨सह दलाल का यह कहना गलत है कि भाजपा सरकार गरीबों को परेशान कर रही है तथा गरीब लोग सरकार से परेशान हैं। सरकार से गरीब परेशान नहीं है बल्कि वे लोग परेशान हैं जिनके अवैध धंधे हैं तथा जिन्होंने अनाप-शनाप पैसा कमा रखा है तथा अब उनके अवैध धंधे बंद होने के कगार पर हैं। गरीब लोग व आम जनता तो सरकार के कामों से खुश हैं।