News Description
प्रवक्ताओं की कमी से महाविद्यालय में पढ़ाई चौपट

होडल : पुन्हाना चौक स्थित राजकीय महाविद्यालय में करीब एक हजार छात्रों को पढ़ाने के लिए मात्र चार प्रवक्ता तैनात हैं, शेष पद काफी लंबे समय से रिक्त पड़े हैं। ऐसे में बिना प्रवक्ताओं के छात्रों का भविष्य कैसे उज्जवल होगा। समस्या को लेकर छात्र कई बार रोड जाम और अधिकारियों को मांग पत्र सौंपे चुके हैं, परंतु समस्या जस की तस है। सत्र को शुरु हुए करीब तीन माह बीतने को आए हैं, परंतु प्रवक्ताओं के रिक्त पदों को भरने के बारे में किसी ने नहीं सोचा।

एक ओर प्रदेश सरकार छात्रों के उज्जवल भविष्य को लेकर कालेज के मैदान में ही लगभग 24 करोड़ रुपये की लागत से पांच मंजिला नई इमारत का निर्माण करा रही है। उक्त कालेज की नई इमारत प्रदेश की पहली इमारत होगी, जिसमें छात्रों के आने जाने के लिए लिफ्ट की व्यवस्था सहित अन्य सभी सुविधा उपलब्ध होगी, लेकिन प्रवक्ताओं की कमी से ये सभी सुविधाएं छात्रों के लिए बेकार हैं। महाविद्यालय में ¨हदी प्रवक्ताओं के दो पद स्वीकृत हैं, लेकिन दोनों ही रिक्त पड़े हुए हैं।

अंग्रेजी विषय के चार में से तीन पद, संस्कृत का एक पद, सामाजिक विज्ञान के दोनों पद, गणित के तीनों पद, रसायन के दो पद, वाणिज्य के तीन, कंप्यूटर साइंस का एक पद तथा शारीरिक शिक्षा विषय का पद भी रिक्त पड़ा हुआ है। रिक्त पदों को लेकर महाविद्यालय प्राचार्या ने भी कई बार शिक्षा निदेशालय को पत्र लिखा जा चुका है, परंतु समस्या हल नहीं हुई।