#घाटी में आतंकवाद को नई धार देने की फिराक में हाफिज         # 26/11 जैसे हमलों को रोकने के लिए तैयार भारत, सैटेलाइट के जरिए पकड़े जाएंगे संदिग्ध         # पद्मावती के विरोध में किले में लटका दी लाश, पत्थर पर लिख दी धमकी         # हरियाणा के 13 जिलों में तीन दिन के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद         # जनहित याचिकाओं के गलत इस्तेमाल पर सुप्रीम कोर्ट चिंतित, संशोधन पर विचार         # ऑड-ईवन योजना में दिल्ली के साथ NCR के दूसरे शहर भी होंगे शामिल :EPCA         # UP निकाय चुनावों में EVM की विश्वसनीयता पर शत्रुघ्न सिन्हा ने उठाए सवाल         # पाक की बेशर्मी, फूलों से सजी गाड़ी से पहुंचा आतंकी हाफिज, लाहौर में मना जश्न        
News Description
दो की बजाए मरीजों को चार बजे रिपोर्ट, एसएलटी से उलझे

जिलाअस्पतालकी लैब में हालात सुधरने का नाम नहीं ले रहे। कर्मचारी अतिरिक्त समय लगाने के बाद भी मरीजों को संतुष्ट नहीं करा पा रहे। कर्मचारियों की कमी का खामियाजा मरीजों और स्टाफ को भुगतना पड़ रहा है। 

नौबत यहां तक गई है कि जांच रिपोर्ट में देरी होने के चलते मरीज कर्मचारियों के साथ उलझने लगे हैं। मंगलवार को खून की जांच रिपोर्ट को लेकर मरीज लैब के सीनियर एसएलटी कृष्ण कुमार के साथ उलझ पड़े। यह पहली बार नहीं हुआ है। ऐसा अक्सर देखने को मिल रहा है। 

वहीं अस्पताल प्रशासन व्यवस्था बनाए जाने के महज दावों तक ही सिमट कर रह गया है। मंगलवार को जिला अस्पताल की लैब में तीन एलटी डयूटी पर थे। जिसके चलते लैब में अव्यवस्था का आलम रहा। एक एलटी ने पहले मरीजों की पर्ची बनाई उसके बाद मरीजों के सैंपल लिए। जिसके चलते मरीजों को घंटों लाइन में लगना पड़ा। इतना ही नहीं एक लाइन में पर्ची कटवाने के बाद मरीजों को दो से तीन घंटे सैंपल के लिए खड़ा होना पड़ा। 

कर्मचारीदे रहे अतिरिक्त ड्यूटी : कर्मचारीलैब में अतिरिक्त समय लगाकर लैब की स्थिति को सुधारने में लगे हैं, लेकिन मरीजों की बढ़ रही संख्या के आगे लैब कर्मचारी असहाय हैं। अतिरिक्त समय लगाए जाने के बाद भी अस्पताल में स्थिति सुधरने का नाम नहीं ले रही। दो बजे ड्यूटी खत्म होने के बाद भी कर्मचारी लैब में साढ़े चार बजे तक अपनी सेवा दे रहे हैं। 

मरीजोंको चार बजे मिली जांच रिपोर्ट : मरीजोंको दोपहर बाद चार बजे खून की जांच संबंधी रिपोर्ट मिली। मरीजों को चार से पांच घंटे तक खून संबंधी जांच रिपोर्ट का इंतजार करना पड़ा। मरीज सरोज, देशराज, प्रदीप, मधु ने कहा कि उन्होंने सुबह साढ़े ग्यारह बजे जांच के लिए सैंपल दिया था, लेकिन चार बजे तक जांच रिपोर्ट नहीं मिली। मरीजों ने कहा कि एक पूरा दिन खून की जांच में निकल गया अब बुधवार को उन्हें दोबारा दवा के लिए आना पड़ेगा। 

मरीजोंको नहीं होने देंगे परेशान : एमएसडॉ. मुकेश ने कहा कि मरीजों को परेशानी नहीं आने दी जाएगी। मंगलवार को एलटी के अवकाश पर जाने की वजह से ऐसा हुआ। उन्होंने कहा कि लैब में कर्मचारियों की कमी को लेकर स्वास्थ्य विभाग उच्च अधिकारियों को लिखा जा चुका है