News Description
स्टेशन पर मिलीं ढेरों खामियां, अधिकारियों की क्लास

स्वच्छ रेल-स्वच्छ भारत अभियान के तहत मंगलवार को उत्तर रेलवे की कैट¨रग चीफ कामर्शियल मैनेजर (सीसीएम) अर्चना श्रीवास्तव ने छावनी रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया। करीब 30 मिनट में उन्हें स्टेशन पर अलग-अलग जगह गंदगी और खामियां मिली जिस पर उन्होंने मौके पर मौजूद संबंधित अधिकारियों की जमकर क्लास लगाई। वहीं शौचालय के बाहर बिना वर्दी के ड्यूटी पर तैनात और रेल पटरियां पार करने सहित तीन युवकों को मौके पर ही पकड़ा गया। इन युवकों के खिलाफ सीसीएम के आदेशानुसार जुर्माना लगाया गया।

दरअसल, पिछले कुछ दिनों से उत्तर रेलवे के सभी स्टेशनों पर स्वच्छ रेल-स्वच्छ भारत अभियान चलाया हुआ है। इसी कड़ी में सीसीएम मंगलवार सुबह स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन से अंबाला छावनी रेलवे स्टेशन पहुंच गई। उनके आने की सूचना पाते ही स्टेशन के सभी खाने-पीने के स्टालों और वेंडरों में हड़कंप मच गया, लेकिन अधिकारी यहां बिना कोई चे¨कग किए ही चंडीगढ़ के लिए रवाना हो गई। सूचना मिली कि दोपहर के समय अधिकारी यहां स्टेशन पर आकर निरीक्षण करेंगी। ऐसे में अधिकारी के आने से पहले ही अंबाला मंडल रेल अधिकारियों ने पूरे रेलवे स्टेशन पर सफाई अभियान छेड़ दिया। एक नंबर प्लेटफार्म से सात तक सभी पटरियों और प्लेटफार्म को धोकर साफ कर दिया गया। नालियों से गंदगी निकालने के अलावा सभी स्टालों के आसपास भी सफाई कर दी गई।

यहां लगी अधिकारियों की क्लास

सीसीएम अर्चना श्रीवास्तव करीब साढ़े 3 बजे रेलवे स्टेशन पर पहुंची। वह सबसे पहले यूटीएस काउंटर के पास पहुंची जहां काफी संख्या में यात्री ट्रेनों के इंतजार में बैठे थे। अधिकारी ने यहां टिकट चे¨कग की तो कई यात्री बेटिकट पकड़ गए। यहां से चलकर अधिकारी प्लेटफार्म नंबर एक पर बने स्वच्छ शौचालयों में पहुंची जहां पूरी तरह से सफाई नहीं थी। वहीं शौचालय के बाहर बैठे युवक से उसकी वर्दी और आइडी के बारे में पूछा गया तो वह बंगले झांकने लगा। युवक को पकड़कर उसका टीटीई से रसीद कटवा जुर्माना लगवाया गया। यहां अधिकारी ने स्टेशन अधीक्षक की मौके पर ही क्लास भी लगाई। बाद में अधिकारी प्लेटफार्म नंबर एक से सीढि़यों के जरिए दो पर पहुंची। सीढि़यों पर यात्रियों द्वारा पान खाकर थूका गया था जिसे अधिकारी ने मोबाइल में कैद किया और इसे साफ करने के लिए कहा गया। वहीं प्लेटफार्म नंबर एक पर रेस्टोरेंट को चेक किया गया जहां सफाई मिली।

अधिकारी ने अपने मोबाइल में कैद की फोटो

इसके अलावा प्लेटफार्म नंबर दो पर नलों के आसपास पिछले कई-कई दिनों से बिलकुल भी सफाई नहीं हुई थी। अधिकारी को जहां-जहां गंदगी और अव्यवस्था दिखाई दी उन्होंने खुद अपना मोबाइल रेल कर्मी को देकर मौके पर ही फोटो कैद करवाई। इसके अलावा स्टेशन के अलग-अलग प्लेटफार्म पर सो रहे भिखारी और बाबा की वेशभूषा वाले लोगों की टिकट चेक करके स्टेशन परिसर से बाहर निकलवाया। वहीं कुछ साधु की वेशभूषा में सोए हुए कई लोग तो नशे की हालत में मिले। वहीं स्टालों के बाहर लगी पुरानी फ्लेक्स को भी बदलने के आदेश दिए गए। इस पूरी कार्रवाई के दौरान अंबाला मंडल की सीनियर डीसीएम प्रवीण गौड़ द्विवेदी समेत अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे