News Description
नप ने ही करवाए स्ट्रीट लाइटों के अवैध कनेक्शन

शहर के लोग नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी विजयपाल की इस बात से सहमत नहीं हैं कि शहर में कई जगह लोगों ने स्ट्रीट लाइटों के कनेक्शन अपनी मर्जी से जोड़े हुए हैं। इन्हें ही बिजली निगम हटा रहा है। लोगों को कहना है कि किसी अपवाद की बात छोड़ दें तो शहर में लगी तमाम स्ट्रीट लाइटें नगर परिषद द्वारा ही लगाई गई हैं।

इनके बिजली कनेक्शन भी नगर परिषद द्वारा ही कराए गए हैं। मुख्य मार्गों को छोड़कर नगर परिषद ने गली मोहल्लों में लगाई गई तमाम स्ट्रीट लाइटों के कनेक्शन सीधे ही घरेलू व व्यावसायिक लाइनों से जोड़े हुए हैं। इसे बिजली निगम चोरी बता रहा है और ऐसी ही स्ट्रीट लाइटों को बंद किया जाता है।

सेवानिवृत्त पुलिस इंस्पेक्टर हरिकिशन शर्मा ने बताया कि नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी इस मामले में गलतबयानी कर रहे हैं। शहर के महाराणा प्रताप नगर स्थित उनके प्लाट के सामने मुख्य मार्ग पर स्थित बिजली के खंभे पर नगर परिषद द्वारा कई वर्ष पूर्व स्ट्रीट लाइट लगाई गई थी, जिसका कनेक्शन भी परिषद के लोगों द्वारा सीधे बिजली की घरेलू लाइन से जोड़ा हुआ है।

निगम द्वारा शहर भर में चलाई गई अपनी मुहिम के तहत कुछ समय पूर्व इस स्ट्रीट लाइट के स्विच का तार हटाकर इसे बंद कर दिया गया था, जिसे बाद में नगर परिषद के ठेकेदार के का¨रदे जोड़ गए थे। बिजली निगम के कर्मचारी अब इस स्ट्रीट लाइट के स्विच को केबल सहित काट ले गए हैं।