# पाक PM के आरोप पर भारत का पलटवार-टेररिस्तान है पाकिस्तान         # मोदी का वाराणसी दौरा आज, 305 करोड़ से बने ट्रेड सेंटर का करेंगे इनॉगरेशन         # समुद्र में बढ़ेगा भारत का दबदबा, पहली स्कॉर्पिन पनडुब्बी तैयार         # रोहिंग्या विवाद के बीच म्यांमार को सैन्य साजो-सामान दे सकता है भारत         # चीन में सोशल मीडिया पर इस्लाम विरोधी शब्दों के प्रयोग पर लगी रोक         # परवेज मुशर्रफ का दावा-बेनजीर की हत्या के लिए उनके पति जरदारी जिम्मेदार          # भारत ने अफगानिस्तान में 116 सामुदायिक विकास परियोजनाओं की ली जिम्मेदारी         # जम्मू-कश्मीर में दो आतंकी गिरफ्तार, सशस्त्र सीमाबल पर किया था हमला        
News Description
एडीसी की देखरेख में देशभर के सरस मेलों में लगेंगे झज्जर में बने उत्पादों के स्टाल

हरियाणाराज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के मार्गदर्शन में चलाए जा रहे हरियाणा राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के कर्मियों की बैठक जिला कार्यक्रम प्रबन्धक, हरियाणा राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन की अध्यक्षता में आयोजित की गई। ये मिशन एडीसी आमना तस्नीम की देखरेख में चल रहा है। 

जिला कार्यक्रम प्रबन्धक हरियाणा राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के योगेश पाराशर ने बताया कि बैठक में कार्य प्रगति की समीक्षा के साथ-साथ देशभर में ग्रामीण विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा पोषित सरस मेलों के आयोजन पर चर्चा की गई। उन्होंने बताया कि प्रत्येक राज्य में सरस मेलों के आयोजन करने पर सरकार का उद्देश्य है कि गरीब परिवारों द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत गठित स्वयं सहायता समूहों की सदस्यों द्वारा निर्मित उत्पादों की प्रदर्शनी एवं बिक्री को बढ़ावा देना है। इसके अतिरिक्त उक्त मेलों में उत्पादकों एवं विक्रेताओं की सभाओं का भी आयोजन, उक्त स्वयं सहायता समूहों की सदस्यों के उत्पादों को निरंतर बाजार उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से किया जाता है ताकि उक्त सदस्याओं के परिवारों को स्थाई आजीविका का रास्ता सुगम बन सके। 

भदानी के दो स्वयं सहायता समूहों ने हिमाचल में लगाई प्रदर्शनी 

जिलाकार्यक्रम प्रबंधक ने बताया कि पिछले माह अगस्त, 2017 में भदानी गांव के दो स्वयं सहायता समूहों की सदस्यों द्वारा हिमाचल प्रदेश द्वारा आयोजित चंबा सरस मेले में अपने उत्पादों की प्रदर्शनी की गई जिसके दौरान उक्त महिलाओं के 46000 रुपए मूल्य के उत्पादों की बिक्री की गई। इसके अतिरिक्त उन्हें भविष्य के लिए कुछ दुकानदारों द्वारा ऑर्डर भी उपलब्ध हुए। कार्यक्रम के बारे में बताते हुए योगेश पाराशर जिला कार्यक्रम प्रबंधक ने बताया कि उक्त मेलों में हरियाणा राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन की तरफ से प्रायोजित स्वयं सहायता समूहों की सदस्यों को मेलों में आने-जाने का किराया दिया जाता है और मेले के दौरान प्रतिदिन के हिसाब से 225 रुपए खान-पान का खर्च भी मिशन के द्वारा स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को प्रोत्साहन राशि के तौर पर उपलब्ध करवाया जाता है। 

14 से कई राज्यों में लगेंगे मेले 

जिलाकार्यक्रम प्रबंधक ने जानकारी देते हुए बताया कि निकट भविष्य में उड़ीसा के शहर राउरकेला में 14 सितंबर से 26 सितंबर 2017, गुजरात के शहर अहमदाबाद में 15 सितंबर से 26 सितंबर, दिल्ली में इंडिया गेट पर 20 सितंबर से 24 सितंबर तक, पंजाब के शहर लुधियाना में 5 सितंबर से 16 सितंबर तक, उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में 6 सितंबर से 17 सितंबर तक, बिहार की राजधानी पटना में 12 सितंबर से 26 सितंबर तक मेलों का आयोजन किया जाएगा। 

स्वयं सहायता समूहों को मेलों में प्रायोजित करने के निर्देश 

मेलोंका विवरण देते हुए योगेश पाराशर, जिला कार्यक्रम प्रबंधक ने अपने सभी साथियों को झज्जर जिले की स्वयं सहायता समूहों की सदस्याओं को अधिक से अधिक मेलों में प्रायोजित करने और उनके उत्पादों की बिक्री सुनिश्चित करने के लिए आह्वान किया ताकि गरीब महिलाओं के स्थाई आजीविका का रास्ता सुगम हो सके। इस अवसर पर जिला क्रियान्वयन प्रबंधक मुंतजिर आलम, संदीप बोडिया, तकनीकी सहायक सलाहकार, खंड कार्यक्रम प्रबंधक भरपूर सिंह, आशीष कुमार, जयशंकर, क्लस्टर कॉर्डिनेटर सुरेंद्र कु मार , नीलम, कमला के साथ-साथ पीआरपी सुनीता, सुजाता, सोनिया एवं राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन में कार्यरत सक्षम युवा उपस्थित थे