News Description
अन्तर्राज्यीय ठग को सोनीपत पुलिस ने किया गिरफ्तार

जिले के एस0पी0 श्री अश्विन शेणवी ने अपनी विशेष कार्ययोजना के अन्तर्गत समस्त सोनीपत पुलिस को अपराधियो एवं असामाजिक तत्वो की धरपकड के निर्देश पहले से ही दिये हुये है। इन्ही निर्देशों की पालना करते हुये जिले की आर्थिक अपराध शाखा सोनीपत पुलिस ने मारबल व्यापारी से लाखों रूपये की धोखाधडी करने के अन्तर्राज्यीय ठग को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी राहुल उर्फ गरीश भाई गजेरा उर्फ राहुल पटेल पुत्र गरीश बाबू भाई निवासी न्यू पूर्वी सोसाईटी गैरिज रोड वासना जिला अहमदाबाद गुजरात का रहने वाला है।  
             इस प्रकरण की विस्तृत जानकारी देते हुये बताया कि गत् 17 अक्टूबर 2016 को जगदीश पुत्र छबीलदास निवासी खन्ना कालोनी सोनीपत ने थाना सिविल लाईन सोनीपत में शिकायत दी थी कि कृष्णा मारबल के नाम से बहालगढ रोड पर मेरी दुकान है। मेरे मोबाईल फोन पर रशीद भाई पटेल नाम के व्यक्ति का व्हाटसअप आया उसने कहा कि फैक्ट्री से टायल सस्ते भाव में भिजवा दी जायेगी। उन्होंने फैक्ट्री मे टायलों से भरी गाडी खडी करके उसका फोटो मेंरे पास डाल दिया और कहा कि यह गाडी आपके पास पंहुच जायेगी। टायलो के पैसे हमारे खाते मे डलवा दें। मैंने 2 लाख 84 हजार रूपये उनके खाते में डलवा दिये। लेकिन उन्होनें टायलो से भरी गाडी के पैसे ना देने पर फैक्ट्री मालिक ने गाडी खाली करवा दी। मेरे पास टायल ना पंहुचाकर मेरे साथ धोखाधडी की हैं। इस घटना का उक्त जगदीश के कथनानुसार कथन अंकित कर भारतीय दण्ड संहिता की धाराओं के अन्तर्गत थाना सिविल लाईन सोनीपत में अभियोग दर्ज किया गया।            
बाद में अनुसंधान का कार्य आर्थिक अपराध शाखा सोनीपत को सौपा गया आर्थिक अपराध शाखा में नियुक्त उ0नि0 सत्यनारायण ने अपनी पुलिस पार्टी के साथ कार्यवाही करते हुये घटना में संलिप्त आरोपी को अहमदाबाद की सीमा से गिरफतार कर कब्जा से 48 हजार रूपये की नकदी को भी बरामद कर तीन दिन के राहधारी रिमाण्ड पर लिया गया। गिरफतार आरोपी से पूछताछ करने पर अपने किये अपराध की स्वीकारोक्ति करते हुये बताया कि अपने साथी के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया था। पहले भी इस तरह की दिल्ली, बैंगलोर, जयपुर, चैन्नई व कलकता में घटनाओ को अंजाम दिया था। गिरफतार आरोपी को आज न्यायालय में पेशकर पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया है। शीघ्र ही घटना में संलिप्त अन्य आरोपियों को भी गिरफतार कर लिया जायेगा। मामले  की गहनता से विवेचना जारी है।