#घाटी में आतंकवाद को नई धार देने की फिराक में हाफिज         # 26/11 जैसे हमलों को रोकने के लिए तैयार भारत, सैटेलाइट के जरिए पकड़े जाएंगे संदिग्ध         # पद्मावती के विरोध में किले में लटका दी लाश, पत्थर पर लिख दी धमकी         # हरियाणा के 13 जिलों में तीन दिन के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद         # जनहित याचिकाओं के गलत इस्तेमाल पर सुप्रीम कोर्ट चिंतित, संशोधन पर विचार         # ऑड-ईवन योजना में दिल्ली के साथ NCR के दूसरे शहर भी होंगे शामिल :EPCA         # UP निकाय चुनावों में EVM की विश्वसनीयता पर शत्रुघ्न सिन्हा ने उठाए सवाल         # पाक की बेशर्मी, फूलों से सजी गाड़ी से पहुंचा आतंकी हाफिज, लाहौर में मना जश्न        
News Description
दो साल की बच्ची का अपहरण कर हत्या के आरोपी को सख्त सजा

करीबसात माह पहले गांव चिरहाड़ा से दो साल की बच्ची का अपहरण कर हत्या करने के मामले में बुधवार को अतिरिक्त जिला सत्र न्यायधीश फलित शर्मा की अदालत ने दोषी युवक को सजा सुनाई है। फैसले में विभिन्न धाराओं के तहत अलग-अलग कारावास तथा जुर्माना की सजा सुनाई गई है। अदालत ने दोषी को आईपीसी की धारा 363 में 5 साल कारावास और पांच हजार रुपए जुर्माना, धारा 364ए में 25 साल कारावास और पांच हजार रुपए जुर्माना तथा धारा 302 में 25 साल कारावास और पांच हजार रुपए जुर्माना किया है। जुर्माना नहीं भरने से एक-एक साल अलग से सजा भुगतनी होगी। इसके अलावा धारा 201 में 3 साल सजा और पांच हजार रुपए जुर्माना किया गया है। जुर्माना नहीं भरने पर छह माह की सजा अलग से भुगतनी होगी। 

बावलक्षेत्र के गांव चिरहाड़ा से 24 जनवरी को दो साल की बच्ची संजना का अपहरण कर लिया गया था। कसौला थाना पुलिस ने 28 जनवरी को आरोपी यूपी निवासी अमित चंद को गांव से ही पकड़ लिया, जो कि गांव में ही करीब दो सालों से किराए पर रह रहा था। आरोपी की निशानदेही के आधार पर बच्ची का शव गांव के निकट बावल औद्योगिक क्षेत्र से बरामद किया था। जांच से पता चला था कि बच्ची के अपहरण के बाद परिजनों से 7 लाख रुपए की फिरौती की मांग की गई थी। फिरौती की मांग के बाद पुलिस ने 28 जनवरी को आरोपी को पकड़ लिया था। इस मामले में अदालत में सरकारी वकील सुमेर सिंह ने पुलिस की ओर से सभी साक्ष्य रखे तथा 20 गवाहों के बयान अदालत में दर्ज कराए। सभी साक्ष्यों गवाहों के बयानों को सुनने के बाद अदालत ने फैसला सुनाया।