# पाक PM के आरोप पर भारत का पलटवार-टेररिस्तान है पाकिस्तान         # मोदी का वाराणसी दौरा आज, 305 करोड़ से बने ट्रेड सेंटर का करेंगे इनॉगरेशन         # समुद्र में बढ़ेगा भारत का दबदबा, पहली स्कॉर्पिन पनडुब्बी तैयार         # रोहिंग्या विवाद के बीच म्यांमार को सैन्य साजो-सामान दे सकता है भारत         # चीन में सोशल मीडिया पर इस्लाम विरोधी शब्दों के प्रयोग पर लगी रोक         # परवेज मुशर्रफ का दावा-बेनजीर की हत्या के लिए उनके पति जरदारी जिम्मेदार          # भारत ने अफगानिस्तान में 116 सामुदायिक विकास परियोजनाओं की ली जिम्मेदारी         # जम्मू-कश्मीर में दो आतंकी गिरफ्तार, सशस्त्र सीमाबल पर किया था हमला        
News Description
खरीदने के 2 महीने बाद फोन हुआ खराब, 5 हजार जुर्माना

 कंज्यूमर को मोबाइल कंपनी से संतुष्ट जनक सर्विस नहीं मिलने की शिकायत उसने कंज्यूमर फोरम में दे दी। फोरम ने मोबाइल कंपनी सहित 3 कंपनियों पर 5 हजार रुपए जुर्माना लगाया। मामला सेक्टर-9 के मकान नंबर-392 के निवासी सिद्धांत जैन का है। सिद्धांत ने 21 जुलाई 2017 को ऑनलाइन रेडमी नोट 3 गोल्ड 32 जीबी मोबाइल खरीदा।

  मोबाइल खरीदे जाने के समय कंज्यूमर से एमआई प्रोटेक्टर के नाम पर 599 रुपए अतिरिक्त चार्ज किया गया था और उसे भी 1 साल के वाॅरंटी में कवर्ड होने की बात बताई गई थी। ऑनलाइन बुकिंग के दौरान कंज्यूमर को बंगलुरू की कंपनी टीवीएस इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड की ओर से कुल 12598 रुपए का इन्वायस दिया गया। करीब 2 महीने बाद सितंबर 2016 मोबाइल बारिश में भीगने की वजह से उसमें टेक्निकल फॉल्ट गया। इस पर कंज्यूमर ने मामले की शिकायत ई-मेल के माध्यम से कंपनी को दी।

  शिकायत में कंज्यूमर ने मोबाइल रिप्लेस करने को कहा। इस पर मुंबई स्थित वन असिस्टेंट कंज्यूमर सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड की ओर से कंज्यूमर को ऑनलाइन कंपनी की वेबसाइट पर शिकायत दर्ज करवाने को कहा ताकि उस पर कार्रवाई की जा सके। कंज्यूमर ने कंपनी की वेबसाइट पर पूरी डिटेल के साथ शिकायत दर्ज करवाई। उसके बाद 29 सितंबर 2016 को कंज्यूमर को ई-मेल के माध्यम से शिकायत को क्लोज करने की सूचना मिली। साथ ही कंज्यूमर को क्लेम नॉट रिक्वायर्ड का भी मैसेज ई-मेल के माध्यम से भेजा गया।