News Description
हरियाणा के बच्चे अंग्रेजी और गणित में कमजोर, कक्षा तीन के हिंदी में भी पिछड़े

जुलाईके मंथली एसेसमेंट रिपोर्ट में प्राथमिक के अपेक्षा मिडिल के छात्रों को प्रदर्शन निराशाजनक रहा। अंग्रेजी में कक्षा तीन से आठवीं जबकि गणित में पांचवीं से आठवीं तक के छात्रों का प्रदर्शन खराब रहा। एससीईआरटी ने सभी जिलों की डाइट और डीईईओ को जरूरी कदम उठाने को कहा है।

  राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) में मूल्यांकन विंग प्रभारी सुरेंद्र सिंह सिंधू ने बताया कि पहली से 8वीं तक छात्रों का हिंदी प्रदर्शन अच्छा है। हालांकि तीसरी कक्षा में गुड़गांव, महेंद्रगढ़, रेवाड़ी और सोनीपत को छोड़कर अन्य सभी जिलों के छात्रों का प्रदर्शन खराब है। तीसरी कक्षा में हिंदी पर अधिक ध्यान देने की जरूरत है। अंग्रेजी में कक्षा तीन से आठवीं तक सुधार की जरूरत है। गणित में पांचवीं और आठवीं में गिरावट है। ईवीएस में कक्षा तीन से पांचवीं तक छात्रों का बेहतर प्रदर्शन है, लेकिन पलवल और मेवात को छोड़कर। साइंस में सभी जिलों का प्रदर्शन शानदार है।

प्रभारी ने कहा कि सभी डाइट को निर्देश दिए हैं कि जिला स्तर पर बैठक कर इन कमियों को दूर करें। मासिक टेस्ट छात्रों के प्रदर्शन का एक आइना है। एसीईआरटी निदेशक डॉ. किरणमयी ने कहा कि एससीईआरटी हर माह होने वाले मासिक टेस्ट का मूल्यांकन करती है। इसके बाद रिपोर्ट संबंधित जिलों को भेजी जाती है। स्कूलवार भी रिपोर्ट तैयार की जाती है, ताकि जिला स्तर पर अधिकारियों को ऐसे स्कूलों पर नजर रखने में सहूलियत मिले।