# पाक PM के आरोप पर भारत का पलटवार-टेररिस्तान है पाकिस्तान         # मोदी का वाराणसी दौरा आज, 305 करोड़ से बने ट्रेड सेंटर का करेंगे इनॉगरेशन         # समुद्र में बढ़ेगा भारत का दबदबा, पहली स्कॉर्पिन पनडुब्बी तैयार         # रोहिंग्या विवाद के बीच म्यांमार को सैन्य साजो-सामान दे सकता है भारत         # चीन में सोशल मीडिया पर इस्लाम विरोधी शब्दों के प्रयोग पर लगी रोक         # परवेज मुशर्रफ का दावा-बेनजीर की हत्या के लिए उनके पति जरदारी जिम्मेदार          # भारत ने अफगानिस्तान में 116 सामुदायिक विकास परियोजनाओं की ली जिम्मेदारी         # जम्मू-कश्मीर में दो आतंकी गिरफ्तार, सशस्त्र सीमाबल पर किया था हमला        
News Description
फेल हुई छात्राओं ने हंगामा करते हुए किया रोड जाम

10वीं की परीक्षा में फेल हुई छात्राओं ने हंगामा करते हुए रोड जाम कर दी। रि-चेकिंग की मांग को लेकर गवर्नमेंट कन्या स्कूल की छात्राओं ने पेहवा चौक पर धरना देते हुए कहा कि बोर्ड ने पहले उन्हें पास दिखाया और बाद में उन्हें फेल कर दिया। इन छात्राओं ने प्रधानमंत्री के नाम पत्र लिखा है कि हैलो पीएम सर, आपको हमारा नमस्कार। आपकी बेटियों को फेल कर दिया गया है। वैसे तो आप बेटी-बचाओ-बेटी पढ़ाओ की बात कहते हैं, लेकिन उन्हें जानबूझकर फेल कर दिया गया है। टीचर कहते हैं कि रि-चेकिंग के फार्म भर दो, लेकिन जिन बच्चों के माता पिता 1500 रुपए प्रति माह कमाते हैं वे बच्चे कैसे रि-चेकिंग का फार्म भरेंगे। इन छात्राओं का कहना है कि मां-बाप उनकी पढ़ाई रोककर शादी करवा देंगे। वहीं, भिवानी बोर्ड के चेयरमैन जगबीर सिंह का कहना है कि परिणाम जारी करने के दिन जरूर प्रोग्रामिंग में दिक्कत थी। जिसमें 100 नंबर की जगह 10 नंबर दिखा दिए गए थे। इन छात्राओं ने पुराना परिणाम डाउनलोड किया होगा। छात्राएं दोबारा अपना रिजल्ट देखें इसके बाद भी कोई दिक्कत है तो स्कूल बोर्ड से संपर्क करे।