News Description
खीर की जगह मिड डे मिल में नमकीन चावल

शिक्षक दिवस के मौके पर शिक्षा अधिकारियों द्वारा किए गए कई स्कूलों में औचक निरीक्षक के दौरान मिड डे मिल की जांच में कई खामियां मिली। धीरंकी गांव में खीर की जगह बच्चों को नमकीन चावल बनाए गए, जिस पर विभाग के अधिकारी भड़क गए। इसके अलावा स्कूलों में बच्चों की संख्या नाममात्र पाई गई। खंड शिक्षा अधिकारी ने संबंधित स्कूलों के मुखिआ को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

खंड शिक्षा अधिकारी दरियाव ¨सह व खंड समन्वयक अख्तर हुसैन ने सबसे पहले धींरकी स्कूल में औचक निरीक्षण किया। वहां पर मिड मिल में बच्चों को नमकीन चावल खिलाए जा रहे थे। नमकीन चावल खाने के मैन्यू में है ही नहीं। निरीक्षण के दौरान मलाई मिडिल स्कूल में 92 में से 11 छात्राएं, यहीं के प्राथमिक स्कूल में 188 में से 40, जलालपुर मिडिल स्कूल में 393 बच्चों में से 60, प्राथमिक स्कूल में 186 में 21, लखनाका मिडिल स्कूल में 174 में 129, प्राथमिक स्कूल में भी बच्चे नाममात्र के थे।