News Description
यमुना में पानी बढ़ने से किसान खुश,बाढ़ नियंत्रक के पुख्ता इतजाम नहीं

सनौली : यमुना नदी में जलस्तर चेतावनी लेवल को छूने के बाद कम होने लगा है। बारिश के सीजन में यमुना में पानी नहीं छोड़ने जाने से किसान चिंतित थे कि भूजल स्तर नीचे चला जाएगा। यमुना में पर्याप्त पानी छोड़े जाने से किसान अब खुश हैं। वहीं, बाढ़ नियंत्रण के पुख्ता नहीं होने से ठीकरी पहरा लगना शुरू कर दिया है। 

बरसात के पूरे सीजन में यमुना नदी में पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं छोड़ा था। इसको लेकर किसानों को भूजल स्तर नीचे जाने की चिंता सताने लगी थी। बारिश कम होने के कारण सूखे के कयास लगा रहे थे। यमुना नदी में अचानक जलस्तर बढ़ने से उनकी चिंता दूर होने लगी है। वहीं, बाढ़ नियंत्रक के पुख्ता इतजाम नहीं किए हैं। यमुना से सटे गांव के ग्रामीण ठिकरी पहरा लगाकर चौकसी बरत रहे हैं। उतर प्रदेश के मवी गांव स्थित केंद्रीय जल आयोग कार्यालय में कार्यरत कर्मचारियों का कहना है कि बरसात का पानी यमुना नदी में छोड़ा गया है। खतरे वाली कोई बात नहीं है।