# पाक PM के आरोप पर भारत का पलटवार-टेररिस्तान है पाकिस्तान         # मोदी का वाराणसी दौरा आज, 305 करोड़ से बने ट्रेड सेंटर का करेंगे इनॉगरेशन         # समुद्र में बढ़ेगा भारत का दबदबा, पहली स्कॉर्पिन पनडुब्बी तैयार         # रोहिंग्या विवाद के बीच म्यांमार को सैन्य साजो-सामान दे सकता है भारत         # चीन में सोशल मीडिया पर इस्लाम विरोधी शब्दों के प्रयोग पर लगी रोक         # परवेज मुशर्रफ का दावा-बेनजीर की हत्या के लिए उनके पति जरदारी जिम्मेदार          # भारत ने अफगानिस्तान में 116 सामुदायिक विकास परियोजनाओं की ली जिम्मेदारी         # जम्मू-कश्मीर में दो आतंकी गिरफ्तार, सशस्त्र सीमाबल पर किया था हमला        
News Description
शव मोर्चरी में रखवाने के लिए बाहर से मंगवाते हैं बर्फ

कालका : कालका की सीएचसी की मोर्चरी में शवों को रखने के लिए एक ही फ्रिजर चालू हालत में है। उसमें भी गैस की कमी के चलते ज्यादा गर्मी में कुछ समय के लिए ही शव को रखा जा सकता है। जो विभाग के पुख्ता दावों की हकीकत को बयां करता है।

     सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कालका स्थित मोर्चरी जहा पर शवों के पोस्टमार्टम किए जाते है, वहा शवों को खराब होने से बचाने के लिए उन्हें डीप फ्रिजर में रखा जाता है। लेकिन पिछले 3 सालों से अस्पताल के फ्रिजर खराब पड़े है जहा किसी भी हादसे में मौत के बाद शवों को रखने से पूर्व अस्पताल कर्मी परिजनों से बर्फ की सिलिया मंगवाते हैं। 

पहले से परेशान परिजनों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है वे बाजार जाकर बर्फ खरीद कर लाते है। कालका रेलवे रोड व्यापार मंडल के प्रधान सुनील कुमार श्याम, महासचिव मुकेश सोढ़ी, पार्षद सोमनाथ, पंडित टिकू गौतम, गोल्डी वाल्मीकि ने अस्पताल प्रशासन समेत हरियाणा सरकार से मोर्चरी में फ्रिजर उपलब्ध करवाने की माग की है।

    उन्होंने कहा कि एक तो किसी के घर में मौत के बाद मृतक के परिजन पहले ही परेशान होते हैं, ऊपर से अस्पताल में फ्रिज की उपलब्धता न होने के चलते लोगो को बर्फ लेने के लिए धक्के खाने पड़ते हैं। रात के समय जो लोग यहां शव लेकर आते हैं, उन्हें बर्फ की सिल्ली भी नहीं मिलती।