News Description
जाॅब प्लेसमेंट के नाम पर बेरोजगारों को ठगने वाली मुखिया महिल गिरफ्तार

सिटी जगाधरी गेट पर जॉब प्लेसमेंट के नाम पर बेरोजगार युवकों को ठगने वाली शातिर महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। यह महिला लंबे समय से फरार चल रही थी। जिसे पुलिस ने कोर्ट कार्रवाई के बाद जेल भेज दिया है। अब पुलिस को मामले में गिरोह मुखिया के भाई और बहन की तलाश है।

दरअसल, नवंबर-दिसंबर माह में सिटी जगाधरी गेट के नजदीक सेठी इनक्लेव की बबीता उर्फ सिमरन ने जॉब प्लेसमेंट का दफ्तर खोला था। यहां बबीता के साथ उसके भाई-बहन भी काम करते थे। बबीता युवक-युवतियों से जॉब दिलाने के नाम पर एक-एक हजार रुपए भी लेती थी। इसके बाद युवक-युवतियों को एक माह का समय देकर चलता कर दिया जाता है। यह खेल इन्होंने करीब 30-35 मासूम लोगों के साथ खेला है। मगर जब कई माह बीत जाने के बाद भी बेरोजगारों की जॉब नहीं लगी तो वह जगाधरी गेट बबीता के दफ्तर पहुंचे। लेकिन संतोषजनक जवाब नहीं मिला। बाद में वह दफ्तर भी बंद मिला। युवक-युवतियों ने इसकी शिकायत पुलिस को दी। युवक-युवतियों को विश्वास में लेने के लिए बबीता व उसके गुर्गे रसीद भी जारी करते थे। जिस पर स्टेंप भी लगाई जाती थी
 
सीएम विंडो पर शिकायत की तो मामला दर्ज हुआ
इसकी शिकायत वाल्मीकि बस्ती के चंद्रशेखर ने सीएम विंडो पर की। तब पुलिस ने मामला दर्ज कर सभी प्रभावित युवक-युवतियों क े बयान दर्ज किए। हालांकि अभी तक पुलिस बबीता से ठगी की रकम बरामद नहीं कर पाई है, लेकिन पुलिस जल्द ही मामले में रिकवरी का दावा कर रही है।
 
ठगी के मामले में पुलिस ने एक महिला को गिरफ्तार किया है। जिसे कोर्ट कार्रवाई के बाद जेल भेज दिया है। मामले में आरोपी महिला के भाई-बहन को गिरफ्तार किया जाना है