# पाक PM के आरोप पर भारत का पलटवार-टेररिस्तान है पाकिस्तान         # मोदी का वाराणसी दौरा आज, 305 करोड़ से बने ट्रेड सेंटर का करेंगे इनॉगरेशन         # समुद्र में बढ़ेगा भारत का दबदबा, पहली स्कॉर्पिन पनडुब्बी तैयार         # रोहिंग्या विवाद के बीच म्यांमार को सैन्य साजो-सामान दे सकता है भारत         # चीन में सोशल मीडिया पर इस्लाम विरोधी शब्दों के प्रयोग पर लगी रोक         # परवेज मुशर्रफ का दावा-बेनजीर की हत्या के लिए उनके पति जरदारी जिम्मेदार          # भारत ने अफगानिस्तान में 116 सामुदायिक विकास परियोजनाओं की ली जिम्मेदारी         # जम्मू-कश्मीर में दो आतंकी गिरफ्तार, सशस्त्र सीमाबल पर किया था हमला        
News Description
इंटरनेट चलते ही ब्वॉयज कॉलेज में दाखिला शुरू

आखिरकार जिला मुख्यालय पर लड़कों के राजकीय ब्वॉयज कॉलेज में दाखिला प्रक्रिया आरंभ हो गई। मंगलवार से विद्यार्थियों का दाखिला होना शुरू हो गया। पहले दिन दोपहर तक तीन विद्यार्थी दाखिला ले चुके थे। यहां बता दें कि 31 अगस्त तक बिना विलंब शुल्क के दाखिले होंगे तथा इसके बाद 1 सितंबर से 2 हजार रुपये विलंब शुल्क लगेगा। विलंब शुल्क देकर 15 सितंबर तक दाखिला ले सकेंगे। राजकीय महिला महाविद्यालय में शाम के सत्र में लड़कों की बीए प्रथम वर्ष के लिए 80 सीटें निर्धारित की गई है। मंगलवार को एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. एसके यादव व डॉ. सुमन यादव और उनकी टीम ने आवेदन पत्रों की जांच के बाद दाखिला देना शुरू किया।

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम प्रकरण के कारण 24 से 28 अगस्त तक सोशल साइट्स बंद होने के कारण विद्यार्थी दाखिला के लिए आवेदन नहीं कर पाए। मंगलवार को भी 12 बजे के बाद ही इंटरनेट सेवाएं बहाल हो पाईं। इसमें भी स्पीड कम होने के कारण आनलाइन दाखिला प्रक्रिया बाधित रही। विद्यार्थियों और अभिभावक विलंब शुल्क दाखिला की अवधि बढ़ाने की मांग भी उठा रहे हैं। इसके अलावा कुछ अभिभावक री अपीयर और कंपार्टमेंट वालों को भी दाखिला में छूट देने की मांग कर रहे हैं। इससे विद्यार्थियों का एक साल बच जाएगा वहीं निर्धारित 80 सीटें भी भर जाएंगी।