News Description
रोहतक-जींद सहित लंबे रूटों पर बस सेवा शुरू

 पांच दिन बाद परिवहन सेवाएं बहाल होने लगी हैं। रोडवेज की बसों से लेकर निजी वाहन सड़कों पर दौड़ने लगे हैं। हिसार-सिरसा रूट को छोड़कर सभी बसें चली। बसों में यात्रियों की संख्या ठीकठाक रही। ट्रेनों की आवाजाही बढ़ने लगी है। सरकारी कार्यालयों में भी सामान्य दिनों की लोगों की आवाजाही बढ़ने लगी है। बिजली निगम में बिल भरने और कनेक्शन लेने वालों संख्या खासी रही। जनजीवन सामान्य होने लगा है।

डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के खिलाफ फैसला सुनाए जाने के मद्देजनर शुक्रवार को रोडवेज की बसें बंद कर दी गई थी। रविवार को लंबे रूटों पर बसें चलाई गई थी। सोमवार को डेरा प्रमुख को सजा सुनाई गई, इसलिए उस दिन भी बसें बंद रहीं। प्रदेश में शांतिपूर्ण माहौल होने की वजह से मंगलवार सुबह दिल्ली, चंडीगढ़, शामली, अलवर सहित लंबे रूटों पर बसें चला दी थी। दोपहर को जींद डिपो की बस आई। इसके बाद पानीपत डिपो प्रबंधन ने भी जींद रूट पर बसें भेज दी। गोहाना-रोहतक रूट पर भी परिवहन सेवाएं शुरू कर दी हैं। ऐसे में सरकारी बस सेवा शुरू होने से यात्रियों को राहत मिली है।