News Description
कृमि संक्रमण से बच्चों में कुपोषण व खून की हो रही है कमी: मित्तल

सनातन धर्म वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में विवेकानंद सदन के तत्वावधान में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत स्वास्थ्य जागरुकता शिविर लगा। स्वास्थ्य विभाग हरियाणा के आदेशानुसार राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस और मॉप अप दिवस के अवसर पर 6 से 19 वर्ष तक के लगभग 1550 विद्यार्थियों को एल्बेंडाजोल की गोलियां खिलाई गई।

विद्यालय के प्रधानाचार्य सुभाष मित्तल ने बताया कि कृमि संक्रमण से बच्चों में कुपोषण और खून की कमी होती है जिसके कारण हमेशा थकावट रहती है। इसी वजह से बच्चों का संपूर्ण शारीरिक और मानसिक विकास नहीं हो पाता। उन्होंने कहा कि हमें खुले में शौच नहीं करना चाहिए, सफाई का ध्यान रखना चाहिए। फल व सब्जियों को धोकर खाना चाहिए, साफ पानी पीना चाहिए। इन सब बातों को अपनाकर हम कृमि संक्रमण को रोक सकते हैं। इस मौके पर नागरिक अस्पताल अंबाला छावनी की ओर से स्टाफ नर्स की टीम भी मौजूद थीं जिन्होंने सभी विद्यार्थियों को गोलियां भी वितरित की