#घाटी में आतंकवाद को नई धार देने की फिराक में हाफिज         # 26/11 जैसे हमलों को रोकने के लिए तैयार भारत, सैटेलाइट के जरिए पकड़े जाएंगे संदिग्ध         # पद्मावती के विरोध में किले में लटका दी लाश, पत्थर पर लिख दी धमकी         # हरियाणा के 13 जिलों में तीन दिन के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद         # जनहित याचिकाओं के गलत इस्तेमाल पर सुप्रीम कोर्ट चिंतित, संशोधन पर विचार         # ऑड-ईवन योजना में दिल्ली के साथ NCR के दूसरे शहर भी होंगे शामिल :EPCA         # UP निकाय चुनावों में EVM की विश्वसनीयता पर शत्रुघ्न सिन्हा ने उठाए सवाल         # पाक की बेशर्मी, फूलों से सजी गाड़ी से पहुंचा आतंकी हाफिज, लाहौर में मना जश्न        
News Description
भाजपा सरकार नहीं रखती किसी से राजनीतिक द्वेषभाव:बेदी

सामाजिकन्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्ण कुमार बेदी ने कहा कि प्रदेश सरकार कहीं किसी से राजनीतिक द्वेषभावना नहीं रखती। बल्कि पूरे प्रदेश में एक समान विकास कराए जा रहे हैं। बेदी सोमवार को गांव यारी में आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। कहा कि यारी के विकास के लिए 28 लाख 25 हजार की राशि दी जा चुकी है 

उन्होंने ग्रामीणों की मांग पर गांव में व्यायाम शाला, गांव की फिरनी, गुरुद्वारा की गली के निर्माण की घोषणा की। कहा कि शाहाबाद क्षेत्र में 14 नई सड़कों का निर्माण रिपेयर कार्य चल रहा है। बताया कि उज्ज्वला योजना के तहत हरियाणा में 56 लाख रसोई गैस कनेक्शन वितरित किए जा चुके हैं। पिछली सरकार के समय हर क्षेत्र में भाई-भतीजावाद को बढ़ावा दिया गया था। 

कांग्रेस इनेलो का दौर बीत चुका है देश प्रदेश की जनता कांग्रेस इनेलो को पूरी तरह से नकार चुकी है। इस दौरान यारी की सरपंच मनजीत कौर उनके पति श्याम लाल, विक्रमचंद, राजकुमार, दर्शन लाल, अनुज कुमार, गुलशन कुमार, जसबीर सिंह, तेजपाल, राजेन्द्र सिंह, करनैल सिंह, सतीश कुमार, बलदेव राज गुरमेज आदि भाजपा में शामिल हुए। कृष्ण बेदी ने सभी का स्वागत किया। मनजीत कौर ने गांववासियों की ओर से राज्यमंत्री का अभिनंदन किया। 

मौके पर कर्णराज सिंह तूर, सरपंच विक्रम अटवान, अमरजीत सिंह डांगी रामकुमार यारा, अरुण कंसल, लोक संपर्क विभाग से कृष्ण लाल, नीटू राणा,सिमरण झरौली, अनुज कुमार, मुलख राज गुंबर, रामकुमार यारा, मुलख राज गुंबर, बलविन्द्र खरींडवा, विकास राणा, अमरजीत सिंह डांगी, पंचायती राज एसडीओ जिले सिंह मौजूद रहे