News Description
बस सेवा बंद होने के चलते बच्चे की मौत

बस बंद होने का खामियाजा एक नन्ही सी जान को अपनी जान गंवाकर चुकाना पड़ा। पलवल बस स्टैंड पर एक मामला सामने आया है जहां कि बस का इंतजार करते हुए समय पर उपचार न मिलने पर डेढ वर्षीय बच्ची की जान चली गई।

 राजस्थान के भिवाड़ी निवासी सविता पत्नी सुरज अपने मायके गोवर्धन से अपनी सुसराल जा रही थी। उसके साथ उसके बेटे सुमित व ¨प्रस तथा बेटी पल्लवी थी। मथुरा से वह एक प्राइवेट बस में पलवल पहुंची, परंतु रोडवेज बस बंद होने से पलवल से उसे भिवाड़ी के लिए बस नही मिली। सविता की डेढ वर्षीय बेटी को टायफाइड की शिकायत थी।

 पलवल बस स्टैंड पर उतरते समय उसकी बेटी ठीक थी। यहां एक घंटे इंतजार करने के बाद भी उसे भिवाड़ी के लिए बस नही मिली। इसी बीच उसने देखा कि पल्लवी कोई हलचल नही कर रही थी, यह देखकर वह विलाप करने लगी। बस स्टैंड पर तैनात पुलिस कर्मियों ने मौके पर जाकर देखा तो बच्ची को मौत हो चुकी थी। पुलिस ने मामले की सूचना महिला के पति सूरज को दी। शहर थाना प्रभारी सुमन कुमार ने बताया कि पुलिस ने बच्ची के शव को एंबुलेंस से भिवाड़ी भिजवा दिया है।