News Description
जुर्माना वसूलने में अव्वल, कानून व्यवस्था में जीरो

ट्रैफिक पुलिस की सख्ती व जागरुकता अभियान भी शहर की यातायात व्यवस्था को पटरी पर नहीं ला पा रहे हैं। कानून की पालना कराने के लिए पुलिस ने अगस्त माह के 18 दिन में 4274 वाहनों के चालान काटे गए तथा 10.66 लाख रुपये का जुर्माना वसूला गया। पुलिस डायरी पर नजर दौड़ाए तो यह आंकड़ा खुद में एक रिकार्ड है, लेकिन सड़क की हकीकत देखें तो लगता है, कि लोग मानने को तैयार ही नहीं हैं।

यातायात नियमों की अवहेलना करना जैसे नागरिकों की आदत में शुमार हो चुका है। एक हाथ में मोबाइल थामे व दूसरे में कार का स्टेय¨रग या दोपहिया वाहन का हैंडल, अहसास करा देता है कि वाहन चालक को न तो अपनी परवाह है व न ही सामने से आ रहे लोगों की। हेलमेट लगाकर दोपहिया वाहन चलाने को भी जैसे लोग शान में गुस्ताखी समझते हैं। सड़क की हकीकत देखी जाए तो 90 फीसदी दो-पहिया वाहन चालक हेलमेट नहीं लगाते तो चार पहिया वाहन चालकों को सीट बेल्ट लगाना नहीं सुहाता। नियमों की अवहेलना में सभी में होड़ सी लगी रहती है फिर चाहे वे आम नागरिक हों या वर्दीधारी।