News Description
अधिकार क्षेत्र का बनाते रहे बहाना, आधे घंटे तक तड़पता रहा मरीज

 गांव बड़ोपल में हुए विवाद के बाद उपचार के लिए सिविल अस्पताल फतेहाबाद में लाया गया घायल मरीज करीब आधे घंटे तक तड़पता रहा। डाक्टर अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर बताते रहे और मरीज को बड़ोपल सीएचसी में लेकर जाने के निर्देश देते रहे। घायल के परिजनों ने जब हंगामा शुरू किया तो डाक्टरों ने उपचार शुरू किया और रेफर किया।

मामले के अनुसार गांव बड़ोपल में जमीनी मामले को लेकर दो पक्षों में भिडंत हो गई। जिसमें गांव बड़ोपल निवासी नरसीराम गंभीर रूप से घायल हो गया। गंभीर हालत को देखते हुए परिजन घायल को सिविल अस्पताल में लाए। घायल के साथ आए परिजनों ने आरोप लगाया कि डयूटी पर मौजूद डाक्टर दाखिल कर उपचार शुरू नहीं कर रहे औंर न ही रेफर कर रहे हैं। डाक्टरों का कहना है कि घायल का उपचार बड़ोपल सीएचसी में होगा इसलिए यहां से ले जाए। इस दौरान मरीज तड़पता रहा। घायल मरीज के पैर पर गंभीर चोटें थी। घायल का उपचार न करने पर परिवार के लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। मामला बढ़ता देख घायल का उपचार शुरू किया गया और रेफर किया गया।