News Description
देश के पहले पूर्व-वैवाहिक परामर्श केंद्र का किया उद्घाटन

     पजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के न्यायाधीश एवं हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यकारी अध्यक्ष अजय कुमार मित्तल ने आज विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा शुरू किए गए देश के पहले पूर्व-वैवाहिक परामर्श केंद्र का उद्घाटन किया। 
     
     इस उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए मित्तल ने कहा कि शादी से पहले युवक व युवतियों को वैवाहिक जीवन में कर्तव्य तथा अधिकारों के बारे में पता होना बहुत जरूरी है। इस केंद्र पर मनोवैज्ञानिक, चिकित्सक, आर्थिक विशेषज्ञ व कानून के विशेषज्ञों द्वारा उन्हें सलाह दी जाएगी। 
 मित्तल ने कहा कि अब राज्य के सभी जिला विधिक सेवा प्राधिकरणों में ये केंद्र खोले जाएंगे। प्राधिकरण में वालंटीयर व पैरा लीगल वालंटीयर को भी इस परामर्श केंद्र के बारे में प्रशिक्षण दिया जाएगा। 
    उन्होंने कहा कि युवाओं में सहन शक्ति कम हो रही है। इसका सीधा असर रिश्तों पर पड़ रहा है। अब बड़े परिवारों का जमाना नहीं रहा। नई पीढ़ी के पास परिवार के लिए समय नहीं है। ऐसे हालात में युवाओं को वैवाहिक जीवन को शुरू करने से पहले इस तरह का परामर्श दिया जाना जरूरी है। 
 
   न्यायाधीश ने कहा कि अनुभव की कमी के कारण जीवन में बहुत परेशानियां आती हैं। आदमी जिंदगी में तजुर्बे से सीखता है। ऐसे में यह केंद्र बहुत ही उपयोगी साबित होगा।