#घाटी में आतंकवाद को नई धार देने की फिराक में हाफिज         # 26/11 जैसे हमलों को रोकने के लिए तैयार भारत, सैटेलाइट के जरिए पकड़े जाएंगे संदिग्ध         # पद्मावती के विरोध में किले में लटका दी लाश, पत्थर पर लिख दी धमकी         # हरियाणा के 13 जिलों में तीन दिन के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद         # जनहित याचिकाओं के गलत इस्तेमाल पर सुप्रीम कोर्ट चिंतित, संशोधन पर विचार         # ऑड-ईवन योजना में दिल्ली के साथ NCR के दूसरे शहर भी होंगे शामिल :EPCA         # UP निकाय चुनावों में EVM की विश्वसनीयता पर शत्रुघ्न सिन्हा ने उठाए सवाल         # पाक की बेशर्मी, फूलों से सजी गाड़ी से पहुंचा आतंकी हाफिज, लाहौर में मना जश्न        
News Description
पर्यावरण को बचाने के लिए पौधरोपण जरूरी : नागपाल

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की अध्यक्ष तथा जिला एवं सत्र न्यायाधीश शालिनी ¨सह नागपाल ने कहा कि पर्यावरण को बचाने के लिए पौधरोपण बहुत जरूरी है। इसलिए सभी को अपने दायित्व का निर्वाह करते हुए कम से कम एक पौधा जरूर रोपित करना चाहिए।

न्यायाधीश शालिनी ¨सह नागपाल ने डीएलएसए व रेडक्रास के संयुक्त तत्वाधान में एडीआर सेंटर से आयोजित रवाना जागरुकता रैली को हरी झंडी देने के उपरांत अपने विचार व्यक्त कर रही थी। इससे पहले न्यायाधीश शालिनी ¨सह नागपाल व जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव एवं सीजेएम नेहा नौहरिया ने अदालत परिसर के प्रांगण में पौधे रोपित किए, डीएलएसए तथा रेडक्रास के तत्वावधान में निकाली गई जागरूकता रैली को झंडी देकर रवाना किया। रैली एडीआर सेंटर से मुख्य सड़क से होती हुई नए बस अड्डे पर संपन्न हुई।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने कहा कि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की तरफ से पर्यावरण बचाओ-जीवन बचाओ कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा हैं। इस कार्यक्रम के तहत जहां गांव में लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरुक करने के लिए विशेष शिविरों का आयोजन किया जा रहा हैं। सीजेएम नेहा नौहरिया ने कहा कि कोर्ट परिसर में पर्यावरण बचाओ-जीवन बचाओ विषय को लेकर पौधे लगाए गए हैं। इन पौधों के पालन-पोषण का भी विशेष ध्यान रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी डीएलएसए की तरफ से पौधरोपण अभियान चलाया जा रहा है।