# हरियाणा की मानुषि चिल्लर के सिर सजा फेमिना मिस इंडिया 2017 का ताज         # चीन से तनाव के बीच आज सिक्किम में बॉर्डर का दौरा करेंगे आर्मी चीफ         # अब 200 रुपये के नोटों की छपाई शुरू, जल्द होंगे बाजारों में         # अंतरिक्ष में भारत की ऊंची छलांग, संचार उपग्रह जीसेट-17 का सफल प्रक्षेपण         # आजम खान का विवादास्पद बयान, प्राइवेट पार्ट काटकर सेना से रेप का बदला ले रही हैं महिला आतंकी         # मोदी के मंत्री व सांसद ने निकाली स्वच्छ भारत अभियान की हवा         # जुनैद हत्याकांड मामले में हरियाणा पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, 4 आरोपी गिरफ्तार         # मुंबई को दहलाने वाले मुस्तफा दौसा की हार्ट अटैक से मौत         # मोदी 2 दिन के दौरे पर गुजरात पहुंचे, शाम को राजकोट में करेंगे रोड शो         # 5 अगस्त को होगा उपराष्ट्रपति चुनाव, EC ने किया तारीखों का एलान        
Haryana Voice
kya aap modi sarkaar k 3 saal k karyakaal se khush hai
yes
no
don't know
no comments


View results
News Description
बेसहारा पशुओं को रेलवे ट्रैक पर जाने से रोकने के लिए बराही फाटक के पास फिर लगाई ग्रिल

समाजसेवी रमेश राठी ने बताया कि इस ग्रिल को दोबारा लगवाया गया है ताकि कोई गोवंश रेल की चपेट में आकर अकाल मौत का ग्रास नहीं बन सके। बता दें कि बराही फाटक संख्या २४ के पास रेल की पटरियों के साथ सटी खाली जमीन पर गोभक्तों ने जनता के सहयोग से लोहे की ग्रील लगवाई थी मगर लोगों ने अपने आने जाने की सुविधा के लिए यहां पर लगी ग्रील को तोड़ दिया था। आसपास के निवासी रेल की पटरियों के नजदीक कूड़ा भी डाल देते हैं और उस कूड़े को खाद्य सामग्री समझकर बेजुबान गोवंश उसे खाने के चक्कर में पटरियों तक पहुंच जाते हैं तथा रेल की चपेट में आकर दम तोड़ देते हैं। उन्होंने बताया कि यहां पर लगभग ५० फुट लंबी जगह बिना ग्रील की थी उन्होंने गोवंश की सुरक्षा के लिए वहां पर भी ग्रील लगवाकर उस रास्ते को भी बंद करवा दिया है। गोधन सेवा समिति के प्रधान रमेश राठी ,प्रवीन अहलावत, सुशील राठी, सुनील छिल्लर, बिजेंद्र राठी, कृष्ण चावला, संदीप आर्य, अमित आर्य, संजीव मलिक, मंदीप सैनी, कपिल छिक्कारा, सुरेंद्र कुमार आदि गोभक्तों ने लाइनपार के लोगों से गोवंश का जीवन बचाने में गोधन सेवा समिति का सहयोग करने का आह्वान किया। गोभक्तों ने कहा कि आज सरकार की बे-रुखी के कारण गोवंश की हालत खराब है। बहादुरगढ़ की सड़कों पर सैकड़ों गोवंश विचरण करने को मजबूर है। समिति ने लोगों ने कहा कि गोवंश की सुरक्षा के लिए २६ मई को लघु सचिवालय में धरना भी होगा।