News Description
दस्तावेज सही कराने गई थी अंतरराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी, रेवाड़ी में ट्रेन के आगे कूदी

   सोनीपतकी रहने वाली अंतरराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी ज्योति गुप्ता (20) ने रेवाड़ी में ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली। खिलाड़ी का शव रोहतक रेल लाइन पर पड़ा मिला। ट्रेन के चालक ने बताया कि युवती ने ट्रेन के आगे कूद कर आत्महत्या की है। इधर, परिजनों का कहना था कि ज्योति मानसिक तौर से मजबूत थी आत्महत्या नहीं कर सकती। पुलिस ने चालक से परिजनों की बात कराने के बाद 174 के तहत कार्रवाई की है। 

    बुधवार रात को जीआरपी थाना पुलिस को सूचना मिली कि रोहतक रेललाइन पर फ्लाइओवर के पास एक युवती का शव पड़ा है। पुलिस को शव के पास बैग मोबाइल मिला, जिससे मिले दस्तावेजों के आधार पर उसकी पहचान की गई। गुरुवार सुबह ज्योति के परिजन कोच अनिल कुमार पहुंचे। परिजनों ने बताया कि ज्योति बीए कर चुकी थी। बुधवार को सर्टिफिकेट में दर्ज नाम ठीक कराने की कहकर वह एमडीयू रोहतक के लिए गई थी। देर शाम उसने बस खराब होने के चलते देर होने की बात कही। इसके बाद उसका फोन नहीं लगा। 

  कोचअनिल कुमार ने बताया कि ज्योति प्रतिभाशाली खिलाड़ी थी। बीते 4-5 सालों के दौरान वह भारतीय महिला हॉकी टीम का हिस्सा रही थी। हाल में गुवाहाटी में हुए सैफ (साउथ एशिया) गेम्स में भी वह खेली थी। वह स्टेट नेशनल कैंप अटेंड करती रही थी। बेंगलुरू में होने वाले हॉकी कैंप में भी उसे हिस्सा लेना था।