News Description
आसमान छूने लगे टमाटर-प्याज के दाम

कौड़ियों के भाव बिक रहे टमाटर-प्याज के दामों में एकाएक उछाल आ गया है। बरसात के बाद से टमाटर के दाम लगातार बढ़ते जा रही है। वहीं दो रुपये प्रतिकिलो के दाम पर बिका प्याज 20 रुपये तक पहुंच गया है। खुदरा में यह डेढ़ गुणा रेट पर बिक रहे हैं। लोगों का कहना है कि सरकार खाद्य पदार्थों के दामों पर तो लगाम लगा रही है, मगर सब्जी के दामों में लगातार वृद्धि पर रोक नहीं लगाई जा रही।

सीजन में प्रदेश भर में प्याज दो से चार रुपये प्रतिकिलो के हिसाब से बिका है। जब तक यह किसान के पास था तो इसके दामों में कोई वृद्धि नहीं हुई, मगर अब स्टोर किए गए प्याज के दाम कई गुणा बढ़ गए हैं। बाजार में थोक में प्याज की कीमत 18 से 20 रुपये है, खुदरा में प्याज 25 से 30 रुपये प्रतिकिलो बिक रहा है। सब्जी आढ़तियों का कहना है कि लोकल अब तक खराब हो जाता है, जिसके चलते मध्य प्रदेश से प्याज की आपूर्ति हो रही है। माल भाड़े के कारण इसके दाम बढ़ गए हैं। सब्जी मंडी के आढ़ती जुगल किशोर का कहना है कि लोकल प्यास समाप्त हो गया है तथा इस समय मध्य प्रदेश से आ रहा है। पिछले सप्ताह तक प्यास 11 रुपये प्रति किलो था जो अब 20 रुपये हो गया है।

बारिश ने खराब कर दी फसल

चौधरी चरण ¨सह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के पूर्व प्रोफेसर एवं वरिष्ठ सब्जी विशेषज्ञ डॉ. सीबी ¨सह का कहना है कि प्री-मानसून की बारिश से टमाटर की फसल को नुकसान हुआ था। अब दोबारा बारिश होने के कारण टमाटर की फसल पूरी तरह से नष्ट हो गई है, जिससे आसपास के जिलों से टमाटर की आपूर्ति नहीं हो रही। दूसरे राज्यों से टमाटर की आपूर्ति होने के कारण दाम बढ़ रहे हैं। बारिश से अगेती टमाटर की पौध भी खराब हो गई है।