News Description
जहां से रुकी थी वहीं से आगे बढ़े धानक धर्मशाला मंदिर बगीची की चुनावी प्रक्रिया

धानकधर्मशाला मंदिर बगीची की चुनावी प्रक्रिया को नए सिरे से शुरू कराने की बजाय पुरानी प्रक्रिया को ही आगे बढ़ाने की मांग की गई है। समाज के कुछ लोगों ने यह मांग उठाते हुए चुनाव प्रक्रिया स्थगित करने पर आपत्ति जताई है। 

    समाज के लोगों ने कहा कि 24 जुलाई को 11 सदस्यों ने नामांकन फार्म प्राप्त किए थे। 25 जुलाई को 6 सदस्यों ने चुनाव फीस के साथ नामांकन फार्म जमा कराए। 26 जुलाई को कोई भी नामांकन फार्म वापस नहीं हुआ और नहीं रद किया गया। 27 जुलाई को जब चुनाव चिह्न आबंटित किए जाने थे। इससे पहले धानक धर्मशाला मंदिर बगीची प्रशासक रेवाड़ी-कम सहायक निदेशक जिला उद्योग केंद्र ने 24 अप्रैल को मतदाता सूची को अंतिम रूप देकर मतदाताओं से निवेदन भी किया था कि मतदाता सूची से किसी भी मतदाता को आपत्ति हो तो डीआईसी के पास जमा कराए।

     3 माह का समय गुजरने पर भी किसी मतदाता ने आपत्ति दर्ज नहीं कराई थी। उन्होंने कहा कि जब चुनाव प्रक्रिया पूरी होने पर है तो जिला रजिस्ट्रार, फर्म्स एवं सोसायटीज ने अपने आदेशों के साथ रिटर्निंग अधिकारी को पत्र लिखकर चुनाव स्थगित करा दिए गए, जो कि चुनाव नियमों के खिलाफ है।