News Description
प्रथम चरण में 300 पौधों का किया रोपण

हरी भरीहरियाली वाले हरियाणा प्रदेश की किन्हीं कारणों से विलुप्त होती जा रही पहचान में फिर से हरियाली के रंग भरे जाएंगे। पर्यावरण संरक्षण के लक्ष्य को लेकर प्रदेश के वन विभाग द्वारा शुरू की गई मुहिम के अंतर्गत आईटीआई कलायत में 300 पौधे प्रथम चरण में रोपित किए गए। वर्ग अनुदेशक कर्मचंद, भूपेंद्र सिंह, आनंद और विक्रम ने बताया कि हरियाली के बगैर स्वस्थ जीवन की कल्पना संभव नहीं। राष्ट्रीय मार्ग पर स्थित आईटीआई भवन परिसर वृक्षों की छाया से बेहद दूर रहा है। संस्थान को आकर्षित रूप देने के लिए वन विभाग ने प्रभावी कदम उठाया है। इसमें आईटीआई के शिक्षक, विद्यार्थी अन्य सभी श्रेणियों के कर्मचारियों ने परिसर को हरा-भरा करने की ठानी है। 

वेदों में एक वृक्ष 100 पुत्रों के समान 

राजौंद।नेहरूयुवा केंद्र ज्योति ग्रामीण विकास मंडल जाखौली के सहयोग से गांव के जल घर में पौधारोपण किया गया। मंडल अध्यक्ष फूल कुमार कादियान ने बताया कि इस दौरान 150 के लगभग छायादार, फलदार फूलदार पौधे रोपे गए। उन्होंने कहा कि वेदों में एक वृक्ष 100 पुत्रों के बराबर माना गया है। गांव सरपंच र| सिंह जाखौली ने कहा कि पौधे पर्यावरण प्रदूषण को मिटाने में राम बाण के समान होते हैं। बिना आक्सीजन के किसी भी प्राणी में प्राण वायु का संचार नहीं हो सकता। इस दौरान नरेश कुमार, कर्मबीर कश्यप, इंद्र शर्मा, दिलबाग संदीप मलिक, सतीश, रमेश मौजूद रहे।