News Description
जिले में 174 जगह मिला डेंगू का लारवा, शहर के 106 लोगों को नोटिस

 शहरवासियों को ज्यादा जागरूक माना जाता है, लेकिन मलेरिया विभाग की रिपोर्ट अनुसार शहर में ग्रामीण इलाकों के मुकाबले सबसे ज्यादा डेंगू के लारवा मिले हैं। किसी ने घर में कूलर या पानी की टंकी में पाल रखे हैं तो कहीं फैक्ट्री एवं दुकान के अंदर-बाहर जलभराव में लारवा पनपते मिले हैं। जिले के 174 लोगों को नोटिस थमाया है, जिनमें से शहर के 106 लोग शामिल हैं। इन्हें चेताया है कि अगर दोबारा जांच में लारवा मिला तो जुर्माना भरना पड़ेगा। बता दें कि मलेरिया विभाग ने मच्छर जनित बीमारियां डेंगू और मलेरिया पर अंकुश लगाने के कमर कसी हुई है। इसलिए एंटी लारवा टीम घरों व प्रतिष्ठानों एवं फैक्ट्रियों में जाकर लारवा की जांच कर रहे हैं। विभाग के स्वास्थ्य निरीक्षक सुखबीर ने बताया कि डिप्टी सीएमओ डा. जया गोयल के दिशा-निर्देश में डेंगू व मलेरिया के खिलाफ अभियान छेड़ा हुआ है। इसलिए औचक निरीक्षण करके जांच करते हैं। जहां भी लारवा मिलते हैं, उसके जिम्मेवार व्यक्ति को नोटिस थमाकर बीमारियों के प्रति जागरूक भी करते हैं। शहर में शांति नगर और पीएलए चौकी नजदीक रिहायशी इलाकों में जांच की है। सीएचसी अनुसार सोरखी में छह, मंगाली में 12, उकलाना में पांच, आर्य नगर में पांच, बरवाला में बारह, नारनौंद में छह, सीसवाल में पांच, सिसाय में पांच, हांसी में 12 और हिसार शहर में 106 लोगों को नोटिस दिया है।