News Description
मुहूर्त से पहले ही फुल हुई नंदीगौधाम गऊशाला, फूली कमेटी की सांसें

 मुहूर्त से पहले ही गांव सुल्लर की नंदी गौधाम गऊशाला तीसरे दिन फुल हो गई। गऊशाला में करीब 250 गायों की व्यवस्था ही सही तरीके से हो सकती है लेकिन सोमवार शाम तक गऊशाला में 330 से अधिक गौधन पहुंच गया। लिहाजा उम्मीद से ज्यादा गौधन पहुंचने से न केवल जिला प्रशासन बल्कि श्री कृष्ण नंदीधाम कमेटी की सांसे भी फूल गई। समस्या को देखते हुए सरपंच और कमेटी ने सुबह 11 बजे ही गऊशाला का मुख्य प्रवेश द्वार बंद कर दिया ताकि किसी भी पशु की एंट्री न हो सके। मामले की सूचना मिलते ही एडीसी आरके ¨सह गऊशाला पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। गांव सुल्लर के सरपंच पति हरकेश सुल्लर व कमेटी के सदस्यों ने बताया कि ज्यादा से ज्यादा शेड में 250 गऊ व नंदी की व्यवस्था ही हो सकती है। इससे ज्यादा की स्थिति में अन्य विकल्प तलाशने होंगे।

नहीं हटी 12 हजार वोल्टेज की तारें..तूफान आया तो तबाही तय.

नंदीगौधाम पर अभी भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं। गऊशाला के ऊपर से हाईटेंशन तार गुजर रहे हैं। 12 हजार वोल्टेज के इन तारों को हटाने के लिए पंचायत कई बार पत्राचार कर चुकी है लेकिन कोई सुनने वाला नहीं है। बड़ी बात यह भी है कि इन तारों के साथ सफेदे के पेड़ भी खड़े हैं। ऐसे में खतरा और अधिक बढ़ जाता है। यदि तूफान आया और तारें गिरे तो तबाही तय है।

हाईटेंशन तार हटे तो 100 अतिरिक्त गऊ की हो सकती है व्यवस्था

हाईटेंशन तारें हट गई तो नंदीगौधाम में अतिरिक्त गऊ रखने की व्यवस्था की जा सकती है। सरपंच पति हरकेश सुल्लर से एडीसी को सुझाव दिया कि तारें हटाने के बाद यहां पर वाटर प्रूफ तिरपाल से गऊशाला को कवर कर दिया जाएगा या वाटर प्रूफ चद्दर उस एरिया में रख दी जाएंगी। इस तरह 100 अतिरिक्त गौधन की व्यवस्था की जा सकती है। इस पर एडीसी ने जल्द ही तारों को हटाने का आश्वासन दिया।

नगर निगम के दावे तीसरे दिन ही हवाई..

नगर निगम का दावा था कि शहर में 250 गौधन ही सड़कों पर हैं, लेकिन नंदीगौधाम में तीसरे दिन ही 330 गौधन पहुंचने से निगम के दावों की पोल खुल गई है। शहर अभी भी बेसहारा पशुओं से भरा है। बलदेव नगर पुल के नीचे ही 50 गऊ व बैल रोजाना बैठे रहते हैं। यही हालत अन्य एरिया की है। अभी भी शहर में करीब 700 गऊ व नंदी घूम रहे हैं।

2 अगस्त को गऊशाला का हवन के साथ शुभारंभ

2 अगस्त को नंदीगौधाम गऊशाला का हवन के साथ मुहूर्त किया जाएगा। विधायक असीम गोयल, डीसी प्रभजोत ¨सह, एडीसी आरके ¨सह सहित पशुपालन विभाग के अधिकारी भी इस मौके पर उपस्थित रहेंगे। हालांकि पहले नंदीगौधाम के मुहूर्त के लिए सीएम मनोहर लाल को बुलाने की चर्चाएं चल रही थी।