News Description
बंदरों के आतंक से लोग परेशान, घरों से बाहर निकलना मुश्किल

माॅडलटाउन में बंदरों के भय के कारण महिलाओं बच्चों का घरों से बाहर निकलना मुश्किल हो रहा है। बंदर आए दिन किसी किसी बच्चे या महिला को काट लेते हैं। लोगों का कहना है कि कुछ साल पहले भी बंदर एक नवजात बच्ची को उठा ले गए थे। तब नगर पालिका ने बंदर पकड़वा दिए थे लेकिन अब फिर से बंदरों के कई झुंड माॅडल टाउन में गए है। माडल टाउन एसोसिएशन मोहल्लेवासियों ने नगर पालिका से बंदरों का पकड़ने की मांग की है। 

माॅडल टाउन एसोसिएशन के प्रधान सतपाल मंगला, सुरेश कुमार, अमरनाथ, अशोक कुमार, संजीव, विजय कुमार ने कहा कि माॅडल टाउन में पिछले कुछ दिनों से करीब एक दर्जन बंदर आए हुए हैं। हर रोज सुबह 6 से 8 बजे तक खूब उत्पात मचाते हैं। स्कूली बच्चों को गली से नहीं निकलने देते भगाने पर उन्हें काट लेते हैं। बंदरों से आसपास की कॉलोनियों के लोग भी परेशान हैं। उन्होंने मांग की कि नगर पालिका उक्त उत्पाती बंदरों को पकड़कर शहर से दूर छोड़ा जाए।