News Description
दादरी पुलिस का मोस्ट वाटेंड चढा पुलिस के हत्थे

दादरी पुलिस का मोस्ट वाटेंड चढा पुलिस के हत्थे
 
     सोनीपत, सोनीपत की एस.आई.टी. शाखा ने 50 हजार रूपये के ईनामी बदमाश को अवैध हथियारों सहित गिरफतार किया हैं। गिरफतार आरोपी सतीश उर्फ काला धर्मबीर जिला झज्जर का रहने वाला है। 
        इस प्रकरण की विस्तृत जानकारी देते हुये पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि एस.आई.टी. शाखा गोहाना प्रभारी उ0नि0 राजीव कुमार अपनी पुलिस पार्टी के साथ अपराधियों एवं असामाजिक तत्वों की खोज मे गोहाना रोड रेलवे फाटक ठसका की सीमा में मौजूद था।  इन्हे एक युवक संदिग्ध अवस्था में घुमता हुआ दिखाई दिया।युवक की तलाशी लेने पर इसके कब्जा से एक अवैध देशी पिस्तौल व एक जिन्दा कारतूस मिला।
             अनुसंधान टीम द्वारा आरोपी से विश्लेषणात्मक पूछताछ करने पर अपने किये अपराध की स्वीकारोक्ति करते हुये बताया कि अपने साथी तकदीर निवासी दुबलधन की मौत का बदला लेने के लिए अपने ही गांव के नीरज उर्फ कातिया की हत्या करनी थी। अगस्त 2016 में अपने साथियों के साथ मिलकर खलिहान उर्फ खल्लू निवासी ढाणी फौगाट की हत्या की थी। अगस्त 2016 में नीरज उर्फ कातिया पर जानलेवा हमला किया था। वर्ष 2016 में रेवाडी से एक बरेजा गाडी छिनने की घटना को अन्जाम दिया था। जनवरी 2017 में सितेन्द्र उर्फ कालू निवासी साहूवास की हत्या की थी। इनके अतिरिक्त लगभग एक दर्जन अपराधिक अभियोग दर्ज है। दादरी पुलिस द्वारा 50 हजार रूपये का ईनाम रखा गया था। गिरफतार आरोपी के विरूद्ध शस्त्र अधिनियम के अन्तर्गत थाना शहर गोहाना में अभियोग दर्ज किया गया।गिरफतार आरोपी को न्यायालय में पेशकर  न्यायिक हिरासत जेल भेज दिया गया है।