News Description
छेड़छाड़ के आरोपी महंत के पक्ष में उतरा साधू समाज

दो दिन पूर्व एक डेरे के महंत बाबा हीरापुरी के विरुद्ध दर्ज हुए छेड़छाड़ के केस के विरोध में बृहस्पतिवार को विभिन्न संगठनों व साधू समाज के लोग डीसी सुनीता वर्मा से मिले। उन्होंने डीसी को अपनी मांग का एक ज्ञापन सौंपा। रूद्रपुरी, मथुरापुरी, पूर्व पार्षद राजेश, मनोज कुमार, संजीव कुमार, सुखवीर ¨सह, अजमेर ¨सह, सुरजभान, कृष्ण, रमेश, नरेश, सुरेश, जसवंत लाल, अरूणपुरी, सरलपुरी, महंत सोमपुरी, अश्विनी कुमार, गोपाल, जयप्रकाश ने कहा कि बाबा हीरापुरी के खिलाफ दर्ज केस झूठा है। उन्होंने कहा कि हीरापुरी पिछले दो वर्ष से डेरा महंत की गद्दी पर विराजमान हैं तथा काफी सम्मानित महंत हैं। डेरे के संबंध में जो अदालत में केस चल रहे हैं यह केस उन्हें डिस्टर्ब करने के लिए साजिश के तहत दर्ज करवाया गया है। संत समाज ने उपायुक्त से अपील है कि इस मुकदमे की जांच डीएसपी स्तर के अधिकारी से करवाई जाए।

बाक्स:

बाबा हीरापुरी ने एसपी को दी गई एक लिखित शिकायत में कहा है कि उसके डेरे पर पुरुष, महिलाएं व बच्चे माथा टेकने आते रहते हैं। मैंने डेरे में कई बार छेड़छाड़ की शिकायत करने वाली लड़की को एक लड़के के साथ घूमते देखा था और उन्हें लताड़ भी लगाई थी। इसी के परिणाम स्वरूप उन दोनों ने मिलकर मेरे साथ मारपीट की। मेरी दाड़ी व सिर के बालों को नोच डाला। जब मेरे शिष्य बीच बचाव करने आए तो उन्होंने उनके साथ भी मारपीट व गालीगलौज की।