News Description
कर्मचारियों का ऐलान, मांगे पूरी नहीं हुई तो 12 को रोहतक में किया जाएगा आंदोलन

सर्वकर्मचारी संघ की जिला कमेटी की ओर से गुरुवार को लघु सचिवालय पर एक दिवसीय धरना कार्यक्रम था। इस कारण से दिनभर कर्मचारियों की नारेबाजी होती रही। इस मौके पर फैसला लिया गया कि 12 अगस्त को रोहतक में राज्य परिषद की बैठक होगी, इसके बाद मांगे पूरी होने तक आंदोलन जारी रखा जाएगा। कर्मचारियों ने बाद में मांगों को लेकर सीटीएम के माध्यम से हरियाणा के मुख्य सचिव को ज्ञापन भेजा। 

कच्चेकर्मचारियों को पक्का करने की मांग 

धरनेको संबोधित करते हुए सर्व कर्मचारी संघ के प्रांतीय उपप्रधान जयभगवान दहिया ने कहा कि भाजपा ने कर्मचारियों की मांगों को लेकर वादा खिलाफी की है। सत्ता में आने से पहले भाजपा ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में कर्मचारियों की मांगों को पूरा करने के बारे में कहा था, लेकिन अब इस दिशा में कोई बात नहीं होती है। प्रांतीय सहसचिव ने कहा कि कर्मचारियों की प्रदेश भर में काफी मांगे हैं। इनमें कच्चे कर्मचारियों को पक्का करना। पंजाब के बराबर हरियाणा के कर्मचारियों को वेतन देना। 

ठेकेदारी प्रथा को खत्म करना। नियमित करने की योजना की समीक्षा करना। छठे वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू करना, वेतन विसंगतियों को दूर करना। उन्होंने बताया कि मांगों को लेकर यूनियन एसई कार्यालय, मंत्री मुख्यमंत्री के निवास पर आंदोलन कर चुकी है। 14 जून को बातचीत करने का पत्र दिया गया, लेकिन इसके बाद सीएम से कोई संवाद नहीं हुआ।