News Description
लगातार छह दिन गैरहाजिर रहे तो कॉलेज से कट जाएगा नाम

नए सत्र से विद्यार्थियों को उपस्थिति को लेकर सतर्क रहना होगा। एक क्लास भी छोड़ी तो जुर्माना भरना होगा। अगर विद्यार्थी यह सोचते हैं कि वो जुर्माना भरकर बंक मार सकते हैं तो ऐसा भी नहीं हो सकेगा। लगातार छह दिन या महीने में 14 दिन गैरहाजिर रहने पर उनका नाम कॉलेज से काट दिया जाएगा।

उच्चतर शिक्षा विभाग और महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी (एमडीयू) ने इस संबंध में दिशा-निर्देश जारी किए हैं। नए नियम के तहत बंक मारने पर स्टूडेंट पर जुर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है। एक या एक से अधिक क्लास में अनुपस्थित रहे तो पाच रुपये प्रति क्लास के हिसाब से जुर्माना देना होगा। यह हर महीने वसूला जाएगा।

बिना अनुमति के या विशेष कारण बताए बिना लगातार छह दिन या महीने में 14 दिन क्लास से गैरहाजिर रहने पर कॉलेज से नाम काट दिया जाएगा। नाम काटने से पहले विद्यार्थी को नोटिस भेजा जाएगा। नोटिस के दिन से 15 दिन के अंदर 1000 रुपये का जुर्माना और अभिभावकों के आश्वासन के साथ स्टूडेंट को कॉलेज की ओर से एक मौका मिलेगा। दोबारा बिना अनुमति या कारण के क्लास से अनुपस्थित रहने पर विद्यार्थी का नाम कॉलेज से स्थायी रूप से काट दिया जाएगा।

उपस्थिति बढ़ने की संभावना: क्लास में उपस्थिति बढ़े और संस्थान से नाम काटने की नौबत न आए, इसके लिए कॉलेज प्रशासन विद्यार्थियों को जागरूक करेगा। सत्र की शुरुआत में विद्यार्थियों को इस बाबत जानकारी देने के लिए एमडीयू के दिशा-निर्देश कॉलेज के नोटिस बोर्ड सहित अन्य जगहों पर चस्पा किए जाएंगे। कॉलेज प्रशासन को भी उम्मीद है कि इससे क्लास में स्टूडेंट्स की उपस्थिति बढ़ेगी।

स्नातक और पीजी की नियमित कक्षाएं जल्द शुरू कर दी जाएंगी। ऐसे में पूरी कोशिश होगी क्लास में छात्राओं की उपस्थिति ज्यादा से ज्यादा रहे। इसलिए इस नियम के बारे में छात्राओं को अभी से बताया जा रहा है