News Description
गर्दन में उलझी चाइनीज डोर, बच्ची व बैंककर्मी घायल

 तीज के त्योहार पर गले में चाइनीज डोर के उलझने से छह साल की मासू़म बच्ची व एचडीएफसी बैंक का एक कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हो गया। घायलों को उपचार के लिए सिविल अस्पताल दाखिल करवाया गया। जहां चिकित्सकों ने बैंक कर्मचारी की गंभीर हालत को देखते हुए पीजीआइ चंडीगढ़ रेफर कर दिया। जहां परिजन उसे हिसार-चंडीगढ़ नेशनल हाइवे पर स्थित सिग्नस अस्पताल ले गए। यहां भी चिकित्सकों ने चंडीगढ़ या पटियाला ले जान की बात कही। वहीं छह साल की बच्ची को पुराना बस अड्डा के नजदीक स्थित शाह अस्पताल में दाखिल करवाया गया। जहां गंभीर हालत होने पर आइसीयू में रखा गया है।

बाक्स-

ढांड रोड पर हुआ हादसा

खनौदा निवासी युवक कृष्ण कुमार एचडीएफसी बैंक में कर्मचारी है। रोजाना की तरफ बुधवार को बैंक में आया था। जब छुट्टी करने के बाद वापस गांव लौट रहा था। मोटरसाइकिल पर सवार होकर जैसे ही वह बैंक से चला तो कटी पतंग की टूटी डोर उसके गले में उलझ गई। इस कारण वह गंभीर रूप से घायल हो गया। खून से लथपथ होने पर किसी ने आइडी कार्ड से परिजनों को सूचित किया। सूचना मिलने पर परिजन मौके पर पहुंचे। उसे उपचार के लिए जिला नागरिक अस्पताल दाखिल करवाया गया। जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद पीजीआइ चंडीगढ़ रेफर कर दिया। कर्मचारी के पिता जेठा राम ने बताया कि वह तो मंडी में था किसी का फोन आया तो अस्पताल पहुंचा। बेटे की हालात ज्यादा नाजुक है। चिकित्सक चंडीगढ या पटियाला ले जाने की बात कह रहे हैं।

बाक्स-

किसी परिचित को मिलने जा रहा था

चंदाना गेट निवासी यशपाल ने बताया कि ढांड रोड स्थित अश्विनी अस्पताल में किसी परिचित को मिलने जा रहा था। मोटरसाइकिल पर आगे छह साल की बेटी एकता बैठी थी, पत्नी पीछे बैठी थी। जब वे जवाहर पार्क के नजदीक पहुंचे तो अचानक बेटी के गले में चाइनीज डोर फंस गई। इस कारण मोटरसाइकिल का संतुलन बिगड़ गया। बेटी को घायल हालात में उपचार के लिए अस्पताल दाखिल करवाया। जहां गंभीर हालत को देखते हुए आइसीयू में रखा गया है।