# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
कारोबारी को उसी की रिवाल्वर से गोली मारकर किया घायल

 ससुराल से अपने गांव आ रहे कारोबारी (शट¨रग व्यवसाय करने वाले) की कार को रोक चार युवकों ने हमला कर दिया। बचाव में उसने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली चलानी चाही पर बदमाशों ने रिवाल्वर छीन उसके सिर में गोली मार दी। गोली सिर के पिछले हिस्से में लगी, जिसके बाद कारोबारी गिर पड़ा। वहीं हमलावर उसकी रिवाल्वर फेंक चंपत हो गए। उसके जेब में रखी 65 हजार की नकदी भी नहीं मिली है। पुलिस लूटपाट के इरादे से हत्या का प्रयास व आपसी रंजिश दोनों ही पहलू से जांच कर रही है। हालांकि, परिजन रंजिश बता रहे हैं। दो साल पहले पीड़ित का किसी से झगड़ा हुआ था। तभी से उस पक्ष से उसका मनमुटाव चल रहा था। हो सकता है कि दूसरे पक्ष ने ही हमला कराया हो। पूरी सच्चाई घायल के होश मे आने के बाद ही पता चलेगी।

वारदात सोमवार बारह बजे के बाद फरुखनगर थाना क्षेत्र के गांव झांझरौला के समीप हुई। गुरुग्राम के गांव वजीराबाद निवासी ईश्वर (45)गांव में ही शट¨रग के लिए गोदाम बना रखा है। वह किराए पर भवन निर्माण के दौरान लगाई जाने वाली शट¨रग उपलब्ध कराता है। वह शाम को गांव जराउ सुंदरपुर में रहने वाले ससुर के पास गया था। वहां से खाना खाने के बाद रात 11 बजे वह स्विफ्ट कार से घर के लिए चला। रास्ते में उसे शक हुआ कि उसकी कार का एक कार में सवार लोग पीछा कर रहे हैं। आशंका के बाद उसने अपनी कार गांव खेड़ा झांझरोला की ओर मोड़ दी। यहां पर उसकी बुआ रहती है। रात में उसने वहीं रुकने का मन बना लिया था। गांव पहुंचने के पहले ही पीछे चल रही कार आगे निकली और बीच सड़क पर रुक गई। रास्ता नहीं होने से ईश्वर को अपनी कार रोकनी पड़ी। इसी बीच कार से उतर चार युवक आए और ईश्वर के साथ मारपीट करने लगे। बचाव में ईश्वर ने अपनी रिवाल्वर निकाल गोली मारने का प्रयास किया लेकिन एक हमलावर ने उसकी रिवाल्वर छीन गोली चला दी। एक गोली हवा में गई, दूसरी ईश्वर के सिर के पिछले हिस्से में लगी। गोली लगने के बाद ईश्वर गिर पड़ा तो हमलावर उसकी जेब में पड़ी नकदी लेकर चंपत हो गए। रिवाल्वर वहीं फेंक गए थे। इधर, गोली की आवाज सुन खेत में रह रहे कुछ लोग ईश्वर के पास पहुंचे। वह उस समय होश में था। उसने एक युवक की मदद लेकर मोबाइल से बुआ के लड़के को घटना के बारे में बताया। फोन पर बात करते-करते वह बेहोश हो गया था। दस मिनट बाद उसकी बुआ का लड़का पहुंचा और उसे कार में डाल गुरुग्राम के आर्टिमिस अस्पताल में दाखिल कराया।