News Description
बिजली के टावर पर चढ़ बैठा पुलिस से नाराज किसान

 राई  : गांव दिपालपुर में बेटे के हत्यारोपियों की अब तक गिरफ्तारी न होने से दुखी एक बुजुर्ग किसान वेदप्रकाश मंगलवार सुबह झाड़ली फीडर के हाईटेंशन बिजली के खंभे (टावर) पर चढ़ गया। गले में फंदा भी लगा रखा है। बार-बार चेता रहा है कि कोई ऊपर आया तो वह फंदे पर झूलकर जान दे देगा।

     उसका कहना है कि उसके बेटे सुरेंद्र का शव उत्तर प्रदेश की सीमा में उसके ऑटो में मिला था। परिजनों ने गांव के ही तीन युवकों पर हत्या का आरोप लगाया गया था, लेकिन दो महीने बाद भी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। इसके लिए वह सीधे तौर पर पुलिस को जिम्मेदार ठहरा रहा है। उसका कहना है कि जब तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होगी, वह टावर से नहीं उतरेगा। समाचार लिखे जाने तक राई थाना प्रभारी ऋषिकांत उसे उतारने के प्रयास में लगे हुए थे।

    वेदप्रकाश इससे पहले भी चार सितंबर 2015 को एक मोबाइल टावर पर चढ़ गया था। उस वक्त वह दुष्कर्म के मामले में ठोस कार्रवाई नहीं होने से नाराज था। तब पुलिस मामले में छेड़छाड़ के तहत कार्रवाई कर रही थी। उसके प्रदर्शन के बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज किया। चौथे दिन करीब 71 घंटे के बाद उसे टावर से उतारा था।

      इसके करीब एक माह बाद एक अक्टूबर 2015 को दुष्कर्म के आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर रोष जताते हुए वह फिर से टावर पर चढ़ गया था। पुलिस ने तत्काल आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन देकर उसे नीचे उतारा था।