News Description
शिक्षकों और विद्यार्थियों ने फूंका चीन का पुतला

पटेल नगर स्थित नक्षत्र एजुकेशन सोसायटी में चाइनीज सामान विरोधी मंच के सदस्यों ने शिक्षकों व विद्यार्थियों के साथ चीन का पुतला फूंककर भारत विरोधी नीतियों पर रोष जताया। छात्राओं ने मंच के सदस्यों के साथ चीन के पुतले को अग्नि के हवाले किया। शपथ लेकर कहा कि वह रक्षाबंधन पर चाइनीज राखी की खरीद बिल्कुल नहीं करेगी। मंच के सदस्यों ने कहा कि भारत ने जब जब पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आतकवादी देश घोषित करवाने की पहल की तब-तब चीन ने पाकिस्तान का साथ देकर पाकिस्तान को आतकवादी देश घोषित होने से बचाने का काम किया है। हर साल लाखों करोड़ रुपये का चाइनीज सामान खरीदने वाली भारत की जनता का एहसान मानने की बजाय चीन एहसान फरामोशी करते हुए पाकिस्तान के आतकवादी संगठनों को आर्थिक मदद देकर भारत में हमले करवाने की साजिश को अंजाम दिलवाने का काम कर रहा है।

मंच के सदस्यों ने क्षेत्र की जनता से अपील करते हुए कहा कि अब समय आ गया है कि पाकिस्तान स्थित आतकवादी संगठनों के प्रमुख आर्थिक मददगार चीन को भी करारा सबक सिखाया जाए और यह तब ज्यादा संभव है जब हर क्षेत्रवासी व देशवासी चाइनीज सामान का पूर्ण रूप से बहिष्कार करना शुरू कर दें। मंच के सदस्यों ने शिक्षकों व छात्रों को चाईनीज सामान नही खरीदनें की शपथ भी दिलाई। इस अवसर पर प्रदीप जून, रामकुवार दलाल, रामनिवास जेई, विरेद्र आर्य, रमेश राठी, राहुल आर्य, धर्मबीर कौशिक, नक्षत्र एजूकेशन सोसायटी के शिक्षक नवीन देशवाल, विकास तिवारी, रविंद्र, छात्र राहुल, अरूण, अमित, मंदीप, अंजली, प्रीति, पूजा, मंजू, पल्लवी, मधु, मुस्कान, नेहा के अलावा अन्य विद्यार्थियों ने चाइनीज सामान नहीं खरीदने की शपथ ली।