News Description
नव नियुक्त चेयरमैन के शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन

 नई अनाज मंडी बापौली के परिसर में मार्किट कमेटी के नव नियुक्त चेयरमैन सुरेन्द्र जलमाना और डिप्टी चेयरमैन लददाराम के शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह के मुख्य अतिथि विधायक रवीन्द्र मच्छरौली रहे। विशिष्ठ अतिथियों में भाजपा के वरिष्ठ नेता नीतिसैन भाटिया, किसान मोर्चा के प्रधान निशानसिंह, संजय भाटिया, रघुनाथ कश्यप, सरपंच रत्न सिंह, सुलेख सफीदों, सरपंच शिवकुमार बापौली, करणसिंह रहे और समारोह की अध्यक्षता पानीपत जिला बार एसोसिएशन के प्रधान निर्मल सिंह ने की और भाजपा नेता रवीन्द्र भाटिया ने धन्यवाद ज्ञापित किया। समारोह में वंदे मातरम और स्वामी देव नारायण, स्वतंत्रता सेनानी विजय सिंह पथिक व स्वतंत्रता सेनानी धनसिंह कोतवाल के जयकारे लगते रहे। इस अवसर पर स्वतंत्रता सेनानी एवं पूर्व गृहमंत्री लोह पुरूष स0 पटेल को भी सभी वक्ताओं ने याद किया। समारोह में आई भारी भीड़ को देखकर मुख्यअतिथि गदगद हो गए। उन्होंने किसानों को अन्नदाता कहकर सम्बोधित किया। 
समारोह को सम्बोधित करते हुए समालखा विधायक रवीन्द्र मच्छरौली ने कहा कि हरियाणा सरकार प्रदेश की ऐसी पहली सरकार है, जिसने अपने शासन के थोड़े से समय में ही आम जनता के हित में लगभग 200 योजनाएं लागू की है। किसानों के हित में भी अनेक निर्णय लिए गए हैं तथा प्रदेश की जनता को पारदर्शी सुशासन प्रदान किया है। सरकार ने 35 वर्ष बाद दक्षिण हरियाणा के सैंकड़ों गांवों को नहरी सिंचाई का पानी टेल तक उपलब्ध करवाया है तथा गांव अंजनथली में बागवानी विश्वविद्यालय स्थापित करने का निर्णय लिया है। सरकार ने मार्किट कमेटी के माध्यम से उन किसान मजदूरों को 5 लाख रूपये का बीमा देने का निर्णय लिया है। जिनकी मृत्यु कृषि कार्य करते हुए हुई हो। इसके अलावा जो व्यक्ति दुर्घटनाओं में विकलांग हुए हो उन्हें भी 50 हजार से अढ़ाई लाख तक की बीमा राशि उपलब्ध करवाई जाती है। इसके अलावा सरकार ने सब्जियों पर लगने वाली मार्किट कमेटी की फीस को भी समाप्त कर दिया है। उन्होंने किसानों से अनुरोध किया कि वे परम्परागत खेती के अलावा कृषि वैज्ञानिकों की सलाह के अनुसार आधुनिक खेती को अपनाएं ताकि खेती को एक लाभकारी व्यवसाय बनाया जा सके। 
रवीन्द्र मछरौली ने कहा कि हरियाणा कृषि प्रधान प्रदेश है इस प्रदेश की लगभग 75 प्रतिशत जनता कृषि पर आधारित व्यवसायों में रोजगार प्राप्त करती है।  कृषि व्यवसाय से जुड़े लोगों के हितों की रक्षा करने के लिए सरकार ने हरियाणा किसान आयोग का गठन किया है। उन्होनें कहा कि किसानों को कृषि के साथ-साथ पशुपालन, मछली पालन, मधुमक्खी पालन और पॉलीहाऊस कृषि को भी अपनाना चाहिए। उन्होनें कहा कि किसानों को नई कृषि जानकारी उपलब्ध करवाने के लिए हरियाणा के सभी 22 जिलों के सभी प्रगतिशील किसानों की सूचि तैयार की जा रही है इस सूचि का एक डाटाबेस बनाया जाएगा ताकि विभिन्न जानकारियों के माध्यम से भविष्य में किसान हितैषी नीतियां लागू की जा सके। उन्होंने ग्रामीणों से अनुरोध किया कि वे लड़कों के साथ-साथ लड़कियों की शिक्षा पर भी विशेष ध्यान दें। आज लड़कियां खेलों के माध्यम से ही नही, ईसरो और नासा के माध्यम से भी सारी दुनिया में भारत का नाम रोशन कर रही हैं। 
उन्होंने विकास कार्यो की चर्चा करते हुए कहा कि समालखा क्षेत्र में ऐसा कोई गांव नहीं, जिसमें इस सरकार ने कोई ना कोई विकास कार्य ना करवाया हो। इसके अलावा सरकार ने जाति-पाति व भेदभाव की भावना से ऊपर उठकर मैरिट के आधार पर सरकारी नौकरियां दी हैं। जिससे गांव के गरीब परिवारों के होनहार बच्चों को भी सरकारी नौकरी मिली हैं। उन्होंने कहा कि सरकार जहां 4800 करोड़ रूपये की लागत से हरियाणा में नई सड़कों का निर्माण कर रही है, वहीं समालखा क्षेत्र की सड़कों का नवीनीकरण करने के लिए शीघ्र ही लगभग 80 करोड़ रूपये की राशि खर्च की जाएगी। बापौली गांव के विकास के लिए शीघ्र ही 10 करोड़ की ग्रांट दी जाएगी। सब्जी मण्डी में एक नया सैड बनवाया जाएगा। अताोलापुर की सड़कों का विकास करवाया जाएगा। समारोह को वरिष्ठ भाजपा नेता नीतीसैन भाटिया, लक्ष्मणदास रहेजा, रविन्द्र भाटिया, निशानसिंह किसान नेता जगबीर सिंह ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर नवनियुक्त चेयरमैन सुरेन्द्र जलमाना और डिप्टी चेयरमैन लद्दाराम ने जनता को विश्वास दिलाया कि वे मार्केट कमेटी के माध्यम से लोगों की आशाओं और अपेक्षाओं के अनुरूप अपनी जिम्मेवारी का निर्वहन करेंगे। इस अवसर पर भाजपा नेता नूरजहां, किरण चौधरी, जयपाल छौक्कर, गंगाराम एडवोकेट के अलावा सभी बापौली खण्ड के पंच-सरपंच व प्रगतिशील किसान मौजूद रहे।