News Description
असौड़ा में तेंदुए ने किया दो कुत्तों का शिकार

हापुड़ : गढ़मुक्तेश्वर में आतंक का पर्याय बना तेंदुआ अब हापुड़ पहुंच गया है। गांव असौड़ा स्थित एक नर्सरी में चार दिन पहले पालतू कुत्ते को उठाकर ले जाने के बाद शनिवार को उसे नर्सरी के पीछे बनी चकरोड पर एक युवक ने देख लिया। तेंदुआ ने यहां भी एक आवारा कुत्ते को अपना निवाला बनाया है।

   इसके बाद से ग्रामीणों में दहशत का माहौल बना हुआ है। रविवार को काफी संख्या में ग्रामीणों ने हाथों में लाठी-डंडा लेकर तेंदुआ की तलाश की, लेकिन उसका कुछ पता नहीं लग सका। वन विभाग ने ग्रामीणों से अपील की है कि वह अकेले खेतों की तरफ न जाए। 

      गांव असौड़ा निवासी अजय वंश नारायण त्यागी की किठौर रोड पर अजय नर्सरी स्थित है। इस नर्सरी में ही उनका आवास भी बना हुआ है। नर्सरी में उन्होंने काफी कुत्ते भी पाल रखे हैं। चार दिन पहले रात के समय अचानक उनका एक पालतू कुत्ता गायब हो गया। काफी खोजबीन करने के बाद भी उसका कुछ पता नहीं लग सका। इसी दौरान नर्सरी में रहने वाले नौकरों ने थोड़ी दूरी पर बने एक ईख के खेत में तेंदुआ देखा।

      इसकी जानकारी जब अजय वंश नारायण त्यागी को हुई तो उन्होंने प्रशासन के अधिकारियों के माध्यम से सूचना वन विभाग के अधिकारियों को दी। वन विभाग की टीम ने मौके पर जांच-पड़ताल की तो खेतों में तेंदुआ के पंजे के निशान दिखाई दिए। इसके बाद पूरे गांव में तेंदुआ आने का शोर मच गया।