News Description
मूसलाधार बारिश से हरियाणा के 20 से अधिक गांवों में भरा पानी

 

 जुलाना से इनंलो विधायक परमेंद्र सिंह ढुल ने हल्के में सरकारी लापरवाही के कारण थोड़ी ही बारिश से ग्राम स्तर पर हुए जलभराव की समस्या के निवारण को लेकर जिला उपायुक्त अमित खत्री के साथ बैठक की। जिस बीच उन्होंने जिला उपायुक्त से कहा की हाल की मानसून बारिश से हलके के लगभग 20 गांवो में खेतों के साथ.साथ रिहायशी इलाके में जलभराव के कारण भारी नुकसान हुआ है।

 

सरकारी इमारतों में नुकसान होने के साथ ही रिहायशी इलाकों तथा खेतों में जलभराव से ग्रामवासियों का दैनिक जीवनयापन भी प्रभावित हुआ है। आंकलन से अनुसार लाखों रुपये की निजी संपत्ति बर्बाद चुकी है। रिहायशी इलाकों में जलभराव होने से ग्रामवासियों के लाखों रुपये का पशुधन बर्बाद हो रहा है और साथ ही क्षेत्र में गंभीर बीमारियां पनपने का खतरा बना हुआ है।

ला उपायुक्त को वास्तविक स्थिति से अवगत करवाते हुए बैठक में विधायक ढुल ने कहा की गांव नंदगढ़ में सरकारी स्कूल तथा खेतों में भारी जलभराव हुआ है। इसी के साथ गांव भैरोखेड़ा और ढिगाना में खेतों के साथ-साथ गांव की गलियों में जलभराव, गांव लिजवाना कलां व लिजवाना खुर्द, फतेहगढ़, सिरसाखेड़ी, मेहरड़ा, अकालगढ़, करसौला आदि में बड़े पैमाने पर खेतों, सरकारी इमारतों, स्कूल व रिहायशी इलाकों में भारी जलभराव हुआ है। गांव गतौली, करेला, झमोला, गढ़वाली और खेड़ाबख्ता आदि में खेतों के साथ रिहायशी इलाके में जलभराव के कारण काफी नुक्सान हुआ है। जुलाना कस्बे में सरकारी स्कूल के साथ कुछ गलियों में भारी जलभराव हुआ है। ऐसे में जहां एक तरफ गंभीर बीमारियां पनपने का खतरा लगातार बना हुआ है वहीं खेतों में जलभराव के कारण फसलों में भी भारी नुकसान हुआ है।