News Description
शिक्षण संस्थानों की स्वच्छता के आधार पर तय होगी रैंकिंग

केंद्र सरकार के स्वच्छता अभियान के तहत अब देश भर के शिक्षण संस्थानों को रैकिंग दी जाएगी। मानव संसाधन विकास मंत्रालय उनकी शैक्षणिक रैंकिंग के साथ ही स्वच्छता रैंकिंग भी जारी करेगा। इसके लिए देशभर के विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों और शिक्षण संसाधनों से ऑनलाइन आवेदन मांगे गए हैं। उन्‍हें नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआइआरएफ) की तर्ज पर रैंकिंग दी जाएगी। मंत्रालय की ओर से 31 जुलाई तक आवेदन मांगे जाएंगे।

 

रैंकिंग के लिए शैक्षणिक संस्थानों के स्वच्छ वातावरण, छात्रावास में शौचालय की स्थिति, उनकी मरम्मत पर होने वाला खर्च, छात्रावास में ताजा पानी की व्यवस्था, वाटर स्‍टोर‍ेज की स्थिति, पाइपलाइन सिस्टम, संस्थान में ठोस और तरल कचरा प्रबंधन की व्यवस्था के अनुसार अंक प्रदान किए जाएंगे।