News Description
श्याम मर्डर केस : आरोपी मामा और भांजे से पिस्तौल व चाकू बरामद

बैंक काॅलोनी वासी श्याम अरोड़ा मर्डर केस में गिरफ्तार किए गए छोटू राम काॅलोनी वासी आरोपी साहिल और महावीर काॅलोनी वासी पवन को पुलिस ने गुरुवार को अदालत में पेश किया। पुलिस ने पूछताछ के लिए एक दिन के रिमांड पर लिया है। रिमांड के दौरान आरोपियों ने पुलिस को बताया कि बहन से शादी के बाद उसे श्याम से नफरत हो गई थी। पुलिस ने वारदात में प्रयोग किए गए चाकू और पिस्तौल बरामद कर ली। पुलिस ने तीसरे आरोपी डाबड़ा चौक निवासी योगेश उर्फ योगी की गिरफ्तारी लिए भी कई स्थानों पर छापेमारी की, लेकिन कामयाबी नहीं मिली।

बैंक काॅलोनी वासी श्याम के परिवार का हर व्यक्ति गम में डूबा हुआ। मां, बहन और श्याम की पत्नी सपना। श्याम से प्रेम विवाह करने वाली सपना गुमसुम है। पति को खोने का गम उसके चेहरे पर साफ झलकता है। पति की फोटो सीने से लगाए वह खामोश सी रहती है। परिवार के लोग उसे हर पल ढांढ़स बंधाने में जुटे हैं। उसके सामने कठिन परिस्थिति है। जिस श्याम के साथ उसने जीवन बिताने की कसम खायी थी वह अब दुनिया में नहीं ं, लेकिन वह अपने मायके भी नही जा सकती। क्योंकि इसके जिम्मेदार कोई और नहीं उसके अपने भाई, मामा और परिवार के अन्य लोग है। आखिर वह करे तो क्या करे। परिवार लोगों के आने की क्रम जारी रहा।
 
बैंक कॉलोनी का मामला
 
बैंक काॅलोनी वासी श्याम अरोड़ा डाबड़ा ब्रिज नीचे होटल चलाता था। शनिवार को वह होटल से दोपहर को रेस्ट करने के लिए घर गया था। घर पर उसकी पत्नी सपना थी। पौने तीन बजे उसके घर पर पत्नी का भाई छोटूराम काॅलोनी वासी साहिल और मामा पवन व एक अन्य पहुंचे। पानी पिलाने के बाद सपना किचन में चाय बनाने चली गई। इसी दौरान श्याम पर चाकुओं से हमला शुरू कर दिया। वह कमरे में आई। बीच बचाव किया। इसके बाद आरोपी भाग गए थे।