News Description
एस.एफ.आई.के नेतृत्व में छात्रों ने JBT इंटर्नशिप के विरोध में किया प्रदर्शन|

जे.बी.टी. में लगाई गई एक साल की इंटर्नशिप के खिलाफ जिला के छात्रों ने शहर में जोरदार प्रदर्शन करते हुए भिवानी के हरियाणा शिक्षा बोर्ड के सचिव को अपनी मांगों का ज्ञापन दिया। इससे पहले जे.बी.टी. छात्र नेहरू पार्क में एकत्रित हुए और 15 सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया, जिसमें प्रदर्शन की अध्यक्षता जे.बी.टी. स्टूडैंट्स फोरम सम्बद्धित स्टूडैंट्स फैडरेशन ऑफ इंडिया कमेटी सदस्य संदीप, सीमा, हेमंत ने की। संचालन जिला अध्यक्ष राहुल ने किया। प्रैस सरकार द्वारा जे.बी.टी. कोर्स की अवधि बढ़ाना 20 हजार छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ जिसके खिलाफ डी एड छात्रों ने स्टूडैंट्स फैडरेशन ऑफ इंडिया(एस.एफ.आई.) के नेतृत्व में हरियाणा बोर्ड पर विरोध प्रदर्शन कर बोर्ड सचिव अनिल नागर को ज्ञापन दिया।  

इस कोर्स की अवधि देश भर में 2 वर्ष की है परंतु प्रदेश सरकार ने इस कोर्स में अतिरिक्त 180 दिन की इंटर्नशिप जोड़कर कोर्स की अवधि बड़ा कर 3 वर्ष कर दी है एन.सी.टी.ई. जो शिक्षकों के लिए मानक तय करता है उसके अनुसार भी 40 दिन की इंटर्नशिप अनिवार्य है परन्तु सरकार की मंशा इसके पीछे ठीक नहीं है सरकार इन छात्रों से स्थाई शिक्षकों की जगह काम ले स्थायी शिक्षकों की भर्ती पर रोक लगाना चाहती है  साल भर काम करने के बाद भी इन छात्रों को कोई मानदेय नहीं दे रही है। पार्क में छात्रों को सम्बोधित करते हुए राज्य सचिव सुमित सिंह जे.बी.टी. डिप्लोमा में वर्ष 2012 से 2 वर्ष से बढ़ाकर 3 वर्ष किए जाने का कड़ा विरोध एस.एफ.आई. लगातार कर रही है और साथ ही अध्यापक संगठनों तक ने इसे गैर जरूरी बताया था और इसका विरोध किया था।

जिसके कारण खाली शिक्षकों के पदों को भरा नहीं जाता। एस.एफ.आई. ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर जल्द ही शिक्षा बोर्ड इंटर्नशिप को रद्द नहीं करता तो आने वाले दिनों में एस.एफ.आई. जे.बी.टी. डिप्लोमा के छात्रों को लामबंद करते हुए बड़ा आंदोलन खड़ा करने पर मजबूर होगी।